Month: December 2017

गैर मर्द से सामूहिक चुदाई -6

desi kahani वो पहले से ही अपने सारे कपडे उतार कई नंगी नागिन कि तरह घांस पर लोटनिया मार रही थी उसका एक हाथ अपनी ब्रेस्ट पर था, दूसरा चूत के अंदर , आँखों से काम वासना टपक रही थी और अंदर एक तूफ़ान जन्म ले चूका था. हरिया काका भी अपनी जगह आ चुके थे […]

गैर मर्द से सामूहिक चुदाई -5

desi kahani उसकी चोली कि डोरियों को बेसब्री से खोलते हुए मनीष के हाथ कांप रहे थे , आज वो पहली बार उसे उरोजों को नंगा देखने वाला था, और जैसे ही उसने उसकी चोली उतरी उसके सामने उसके कंधारी अनार जितने बड़े – २ दो फल चमकने लगे. उनकी सुंदरता देखकर वो मंत्रमुग्ध सा होकर […]

गैर मर्द से सामूहिक चुदाई -4

desi kahani अब तक उसकी चूत के अंदर से गर्म पानी का रिसाव होना शुरू हो गया था , वक़्त कम था इसलिए उसने भी जल्दबाजी करते हुए हरिया काका के बालों को हलके से पकड़कर ऊपर कि तरफ खींचा, वो समझ गए कि मालकिन उन्हें ऊपर बुला रही है, उन्होंने अपनी लम्बी जीभ को उसकी […]

गैर मर्द से सामूहिक चुदाई -3

desi kahani दिव्या ने सहानभूति दिखाते हुए मनीष के कंधे पर हाथ रखा तो वो आग बबूला हो उठा … ”तू यहाँ बैठकर क्यों मेरी बर्बादी का तमाशा देख रही है मनहूस , चल अंदर जा, जब भी मेरे साथ बैठती है हरवा देती है , चल अंदर जा ” दिव्या को और सभी को मनीष […]

गैर मर्द से सामूहिक चुदाई -2

desi kahani सभी ने अपने -२ हिसाब से चाल चली थी क्योंकि सभी के पत्ते जीतने लायक थे अगली बार जब दोबारा राजेश कि चाल आयी तो उसे अंदेशा हो चूका था कि मनीष या राहुल के पास जरुर अच्छे पत्ते आये हैं, क्योंकि दोनों ने पिछली बार से डबल चाल चली थी इतना सोचते हुए […]

गैर मर्द से सामूहिक चुदाई -1

desi kahani दरवाजा हरिया काका ने खोला , वो मार्किट से आ चुके थे. हर्षित को देखकर उन्होंने बुरा सा मुंह बनाया , पर हर्षित को उनसे कोई फर्क नहीं पड़ता था, वो जानता था कि बुड्डे को उन लफंडरों के चेहरे पसंद नहीं है . अंदर जाकर देखा तो सभी पहले से बैठकर उसी […]

दिवाली पर मजे 12

दिव्या कि बात सुनकर मनीष खुश हो गया , वैसे ये बात सुनकर तो हर पति खुश हो जाता है जब उसकी बीबी खुद चुदाई का निमंत्रण देती है . हर्षित : “मन तो मेरा भी कर रहा है , तभि तो आधा काम छोड़कर भागा चला आया । बाकि का काम हरिया काका कर […]

दिवाली पर मजे 11

दिव्या : “ओहो …तो आप थे ..दरअसल मुझे तैरना नहीं आता ..पर कल वहाँ का पानी देखकर ना जाने मेरे मन में आया कि मैं बिना कुछ सोचे समझे नदी में उतर गयी ..और डूबने लगी ..और बेहोश हो गयी ..और जब मुझे होश आया तो मैं किनारे पर पड़ी थी ..” हर्षित : “हाँ […]

दिवाली पर मजे 10

इतना गुदाज माल अपने सामने देखकर एक पल के लिए तो हरिया को लगा कि उन्हें हार्ट अटैक आने वाला है ..पर बड़ी मुश्किल से अपनी साँसों पर काबू करते हुए उन्होंने फिर से अपना हाथ उसकी ब्रैस्ट के ऊपर रख दिया … अब तो दिव्या का मन भी अंदर से चीख -२ कर केह […]

Page 1 of 812345...Last »
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme