बड़ी चूची और मोटी गांड वाली भाभी-1

desi kahani मेरी चचेरी भाभी का नाम सुनीता है. उनकी उम्र 29 साल है, वो गोरी, बड़ी चूची और मोटी गांड वाली औरत हैं जिसकी हाइट करीब 5.4 है और हमेशा आँखों में काजल होठों पर ब्राउन लिपस्टिक लगाए रहती हैं. बिल्कुल ऐसा लगता है जैसे अभी अभी शादी हुई है. जबकि उनके दो बच्चे हैं एक

7साल का और एक 1 साल का. भईया मुम्बई में काम करते हैं और 3-4 महीने में एक बार घर आते हैं. काम ज़्यादा होने और टाइम कम होने से वो भाभी पर कम ध्यान देते हैं. वैसे तो भाभी मस्त रहती है पर मेरे से उनकी अच्छी बनती है या कहो तो में मेरी भाभी का अच्छा दोस्त हूँ. मैं और सुनीता भाभी साथ साथ घूमते हैं और लोगों को यही लगता है जैसे हम पति पत्नी हैं. मार्केट जाना, पिक्चर देखना, रेस्टोरेंट जाना और आने जाने में बाईक पर चिपक कर बैठना चूचियों का पूरा वजन मेरी पीठ पर देना. भाभी काफ़ी सुंदर है और रोज शाम को सजती हैं. एक दिन शाम को मैं कॉलेज से लौटा तो भाभी बोली चलो यार ज़रा समान लेने चलना है.. में तेयार हुआ और बाज़ार गये वहा उन्होने कपड़े लिए और साथ में ब्रा और पेंटी लेने लगी. उनके पास पैसे कम थे तो मुझसे ले लिए और बोली घर पर ले लेना. में शर्मा गया पर कुछ बोला नहीं. ऐसा अक्सर होता है की भाभी मेरे साथ ब्रा पेंटी ले लेती हैं कभी तो रास्ते में ठेले से लेने लगती हे।

एक दिन में कॉलेज से दोपहर में घर आया तो देखा घर का दरवाज़ा खुला है और अंदर से अज़ीब सी आवाज़ें आ रही हैं. में अंदर घुसा तो देखा की भाभी मेरे कंप्यूटर पर सेक्सी मूवी देख रहीं हैं और एक मूली को अपनी चूत में अंदर बाहर कर रही हैं. यह देख मुझे अजीब सा लगा. मैनें कभी भाभी के बारे में ऐसा नहीं सोचा था की भाभी ऐसा कर सकती हैं और वो भी मेरे कंप्यूटर पर. में तुरंत वापस बाहर आ गया और फिर आवाज़ करते हुए गाड़ी खड़ी की भाभी भागती हुई आई मैनें देखा भाभी को पसीना आ रहा था. भाभी बौखलाई सी थी. मैनें उनको देखा और अंदर आ गया भाभी ने मुझे खाना दिया और में खाना खा कर लेट गया और सो गया सपने में मुझे भाभी और मूली दिख रही थी और कभी लगे की मैं भाभी को चोद रहा हूँ।

सोते में मेरा लंड इस ख्याल से झड़ गया और में उठकर बैठ गया और बाथरूम में जा कर साफ़ करके लौट आया. भाभी ने मुझे चाय पीने को बुलाया. मेरे मन में भाभी को चोदने का ख्याल आने लगा. बाहर आया तो देखा की भाभी ब्लैक साड़ी और लो कट ब्लाउस बहुत बहुत सेक्सी लग रही थी. मुझे चाय देकर भाभी मेरे पास बैठ गयी और हम बाते करने लगे. तभी भाभी ने देखा की में लगातार उनकी चूची देख रहा हूँ तो पूछने लगी क्या देख रहे हो तो में शर्मा गया और बोला कुछ नही भाभी कुछ नही. इस पर भाभी हमेशा की तरह मुस्कुरा कर बोली अरे यार शर्माओ मत बोल की तुम मेरे दूध देखने की कोशिश कर रहे थे, इतना सुनते ही मेरा फ्यूज़ उड़ गया में हैरान और भाभी से सॉरी बोला।

यह सुन कर भाभी हंसी और बोली तुम जवान हो तुम्हारे मन में औरतों के प्रति काफ़ी विचार आते होंगे पर अपनी भाभी के लिए तो ना लाओ… कुछ देर चुप रहने के बाद में बोला देखिए भाभी आप बहुत सेक्सी हो में आपको पसंद करने लगा हूँ और आप से प्यार करता हूँ प्लीज़ मुझसे शादी कर लो… नही तो में मर जाऊँगा… भाभी बोली तुम पागल हो गये हो ऐसा कहीं होता हैं क्या तुम्हारे भईया क्या करेंगे फिर और तुम ऐसा मत बोलो… भाभी प्लीज़ मान जाओ ना.. भाभी बोली अब बस आगे नहीं और मेरे मुहँ पर हाथ रख दबा दिया और मेरा मुहँ बंद कर दिया. मैनें भाभी की हथेली पर चूम लिया भाभी मुस्कुरा दी पर बोली कुछ नहीं. मैनें बोला भाभी में आप को चूम सकता हूँ.. वो बोली में तुझे मना थोड़ी करूँगी… तुम मेरे छोटे से देवर हो तुम मुझे प्यार करोगे तो मैं रोकूंगी नहीं…

मैनें भाभी के दोनो गालों पर पप्पी ली. और फिर में बोला भाभी और ले लूँ.. भाभी बोली कितनी लेनी है मैनें कहा बहुत सारी.. और में उनको चूमने लगा. फिर एकदम से उनके होठों पर किस किया तो भाभी चिल्ला उठी यह क्या करते हो में फिर चूमने लगा तो वो विरोध कर रही थी पर मैनें उसके हाथ पकड़ लिए और उनके होठों को अपने होठों के शिकज़े में जकड़ कर चूसने लगा. भाभी कसमसा रही थी छूटने की कोशिश कर रही थी पर में नही छोड़ रहा था. 10 मिनिट बाद जब सारी लिपस्टिक और होठों का रस में चूस चुका था तो उनको छोड़ा तो भाभी अपने होंठ साफ़ करते हुए गुस्से से बोलने लगी साले कुत्ते कमीने अपनी भाभी पर बुरी नज़र रखते हो कमीने कहीं के हरामजादे साले भाभी के साथ क्या करता है हरामी मादरचोद में तेरे बारे क्या क्या सोचती थी.. तुम्हें भोला बाला अच्छा लड़का समझती थी और तू मुझे ही चोदना चाहता है मुझे चूस रहा है…..हराम की औलाद..

Updated: June 3, 2019 — 9:20 pm
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: