भाभी के चिल्लाने की आवाज़-2

hindi sex kahani मैने कहा भाभी ये तो सब आपका असर है इस पर वो हँसने लगी और मेरा लंड खड़ा हो रहा था तो मैंने अपने पैर के उपर पैर रख कर बैठ गया ताकि मेरा लंड उसे दिखाई ना दे लेकिन उसकी नज़रे मेरे लंड को ही ढूँढ रही थी तभी बेल बजी वो उठ कर दरवाजा खोलने चली गई 2-3 मिनट के बाद मुझे कुछ गिरने की आवाज आई और भाभी के चिल्लाने की आवाज़ भी आई मैं भाग कर बाहर आया तो देखा की भाभी फर्श पर नीचे पड़ी हुई थी मैने जा कर उन्हें उठाया और पूछा की क्या हुआ तो वो बोली की बाहर चंदे वाले थे जब मैं उन्हे चंदा देकर वापस आ रही थी तो फिसल गई मैने पूछा आपको ज़्यादा चोट तो नही आई वो बोली, हाँ बहुत तेज दर्द हो रहा है मुझे मेरे बेडरूम मे ले चलो मैं उन्हे सहारा दे कर बेडरूम मे ले गया. 

मैं बोला भाभी डॉक्टर से दवाई ला कर दूँ क्या तो उसने कहा की उसकी कोई ज़रूरत नही है वो तो मैं तुम्हारे भैया से मंगवा लूँगी तुम दराज मे से मुझे मूव दे दो मैं उसे लगा लूँगी मैने उनकी दराज मे से मूव उन्हे दे दी लेकिन उन्हे खुद मूव लगाने मे काफ़ी परेशानी हो रही थी तो मेरे दिमाग मे सेक्स स्टोरी वाली बात आ गई की कैसे मालिश के बहाने सेक्स किया जाता है मैने उन्हे कहा की भाभी अगर आपको कोई प्रोब्लम ना हो तो लाओ मैं लगा देता हूँ उन्होने कहा ठीक है मैने उनसे कहा की बताओ कहा कहा लगानी है तो वो बोली की दर्द तो सारे शरीर मे हो रहा है लेकिन कमर मे ज़्यादा है वही लगा दो ये कह कर वो अपनी कमर मेरी तरफ करके लेट गई उसकी गांड देख कर मेरा बुरा हाल हुआ जा रहा था.  

मैने आज तक किसी फीमेल को छुआ भी नही था और आज मालिश करने का मोका मिल रहा था मेरे दिमाग मे उस टाइम सेक्स के अलावा कोई बात नही आ रही थी लंड फटने को हो रहा था फिर भी मैं कोई ग़लती नही करना चाहता था अब मैने अपने हाथ पर मूव लिया ओर भाभी की कमर पर लगाने लगा उनको छुते ही मेरा हाल और भी बुरा हो गया वाह क्या कोमल स्किन थी उनकी मेरे हाथ धीरे धीरे उपर जा रहे थे भाभी बोली थोड़ा और उपर लगा दो तो मैं बोला भाभी आपकी ब्लाउज खराब हो जायेगी तो भाभी ने बिना कुछ कहे अपनी ब्लाउज उतार दी अब उनकी नंगी कमर मेरे सामने थी क्या बताऊँ यारो जब कोई पहली बार ये सब देखता है तो उसका लंड पेन्ट को फाड़ने पर उतारू हो जाता है मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा था अब मैं उनकी कमर पर उपर तक मूव लगा रहा था भाभी बोली की तुम बहुत अच्छी तरह से लगाते हो दर्द काफ़ी कम हो गया है इस पर मैं बोला की भाभी आप की स्कीन ही इतनी कोमल है की मालिश करते हुये बड़ा मजा आ रहा है.  

इस पर भाभी हँसने लगी मैं जान बुझ कर उनकी ब्रा की स्ट्रीप मे हाथ बार बार फंसा रहा था इस पर वो बोली की इसे भी उतार दो इतना सुनते ही मैने उनकी ब्रा की हुक खोल दिये और मालिश करने लगा अब मेरी हिम्मत बढ़ती जा रही थी और मैने मालिश करते करते अपने हाथ उनकी छाती तक ले गया जिसके कारण मेरे हाथ उनके बूब्स पर हल्के से टच हुये हाथ टच होते ही भाभी ने एक बड़ी मादक सिसकी ली जिसे सुनकर मेरी हिम्मत ओर बढ़ गई अब मैं और टाइम ख़राब नही करना चाहता था मेरे दिमाग मे यही बात आई की अभी नही तो कभी नही और मैने एकदम से उनके बूब्स दबा दिये भाभी ने एक गहरी सिसकी ली और बोली और ज़ोर से करो ना प्लीज मजा आ रहा है इतना सुनते ही मैं पागल हो गया और उनके बूब्स ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा फिर भाभी बोली की आपको लाइन पर लाने के लिये मुझे पता है कितनी मेंहनत करनी पड़ी है मुझे पता था की आपका दोस्त आज बाहर गया हुआ है  

मैने आपको उसके घर जाते हुये देख लिया था बस मेरे दिमाग़ मे भी यही बात आई की आज चुदाई हो सकती है मैं तो तुझसे बहुत पहले से ही चुदना चाहती थी इस पर मैं बोला भाभी अगर आप मुझे इशारा भी कर देती तो अब तक तो मैं आपको कई बार चोद चुका होता भाभी ज़ोर से हंसी और बोली बुद्धू और कितने इशारे करती मैने घर पर अकेले होने बाद ही आपको बुलाया फिर अपने बाथरूम से सिर्फ़ तोलिया लपेट कर बाहर निकली फिर आपको अपने बूब्स के दर्शन भी करवाये और फिर जब मुझे लगा की आप बड़े शरीफ़ हो और कुछ नही करोगे तो मैने गिरने का बहाना किया और आप से मालिश करवाई ये सब बाते सुन कर मुझे अंदर ही अंदर अपने आप पर बड़ा गुस्सा आ रहा की मैं कितना बुद्धू हूँ लेकिन मैने टाइम ना ख़राब करते हुये भाभी को सीधा किया और उनके होठो पर अपने होठ रख दिये.  

दोस्तो वो मेरी लाइफ की पहली किस थी ओह माई गॉड इसे कह नही सकता की कितना मजा आया था मुझे भाभी ने अपनी जीभ मेरे मुँह मे डाल दी उनकी जीभ को चूसने मे मुझे बड़ा मजा रहा था काफ़ी देर तक किस करने के बाद मैं उनके बूब्स को चूसने लगा उनके बूब्स दबाने मे गुबारे जैसे लग रहे थे तब तक उनका हाथ मेरी जीन्स मे जा चुका था वो मेरे लंड को सहलाने लगी धीरे धीरे हम दोनो ने एक दूसरे के सारे कपड़े उतार दिये अब वो मुझे बोली की अब और कितना इंतजार कराओगे अब तो मुझे चोद दो और उन्होने मेरा लंड अपनी चूत के छेद पर रख दिया मैने जोश जोश मे एक जोरदार धक्का मार कर एक झटके मे लंड पूरा का पूरा उनकी चूत मे उतार दिया.  

इस पर वो चीख पड़ी अरे पगले तुझे चूत चोदने के लिये कहा था फाड़ने के लिये नही मैने कहा भाभी क्या करूँ आप हो ही इतनी गर्म चीज की मेरे पूरे बदन मे आग लगा दी है आपने और इस के साथ मैने अपने धक्को की स्पीड और तेज कर दी भाभी के मुँह से लगातार सिसकियां निकल रही थी आ मेरे राजा और तेज और तेज चोद डाल आज मुझे कितना इंतजार करवाया है तूनेलगभग 10-15 मिनिट के बाद हम दोनो एक साथ झड़ गये हम एक दूसरे से चिपके हुये थे तभी अचानक उनके मोबाइल की बेल बजी वो उनके पति का फोन था उसने कहा की घर पर कुछ मेहमान आने वाले है उनका खाना बना दो बस इसी वजह से हम दोनो की चुदाई बीच मे ही रह गई और मैं घर वापस आ गया लेकिन मेरी आँखों के सामने भाभी का नंगा बदन ही घूम रहा था । 

Updated: September 11, 2019 — 9:52 pm
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: