भावना की भावना को समझा

desi chudai ki kahani हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अमन है, अब में आपको अपनी एक सच्ची कहानी बताने जा रहा हूँ। ये स्टोरी 5 महीने पहले की है, यह स्टोरी मेरी और मेरी गर्लफ्रेंड भावना के बारे में है, उसकी उम्र 21 साल है, वो दिखने में हॉट गर्ल है, उसकी फिगर 36-30-34 है। अब में आपका टाईम वेस्ट ना करते हुआ सीधा अपनी कहानी पर आता हूँ। ये बात तब की है जब जनवरी 2015 में मैंने जॉब चेंज की थी, मेरी ज्वाइनिंग के 3 महीने के बाद वहाँ एक लड़की आई, जिसका नाम भावना था, वो दिखने में इतनी सेक्सी हॉट माल थी कि में और सब ऑफीस के लड़के उसे देखते ही रहते थे, उसकी गांड क्या मोटी थी? फिर सर ने कहा कि इसे सिस्टम सीखा दो। तो वो पहले एक लड़की के पास बैठी, लेकिन वो उसे ढंग से नहीं समझा सकी, क्योंकि वो नहीं चाहती थी कि कोई उसका वर्क सीखे और यहाँ से उसकी छुट्टी हो जाए।

फिर भावना सर के पास गई और बोली कि सर वो लड़की ढंग से नहीं बता रही है, में क्या करूँ? फिर सर ने मुझे बुलाया और बोले कि अमन आज आप एक काम करो, अपना कुछ काम भावना को दे दो क्योंकि आपके पास बहुत काम होता है, आपको इंजीनियरर्स को स्पेयर पार्ट भी देने होते है तो आप अपने सिस्टम का काम इसे दे दो। तो मैंने कहा कि ठीक है सर में दे देता हूँ वैसे भी मुझ पर बहुत काम है और नीचे साथ में जितने भी एंप्लायी है, वो मेरी मदद नहीं करते है, वो बस अपना ही काम करते है, में भावना को 1 हफ्ते में ट्रैंड कर दूँगा ओके। फिर मैंने भावना को सॉफ्टवेयर समझाया और कहा कि कुछ दिक्कत आए तो तुरंत पूछ लेना या कभी भी पूछना में तुम्हारी मदद कर दूंगा। फिर मैंने भावना को 2 दिन तक सॉफ्टवेयर सिखाया, अब वो मुझसे घुल मिल गई थी। फिर हमने फ़ेसबुक पर एक दूसरे को रिक्वेस्ट भेजी और फिर हमारी चैट शुरू हो गई।

फिर पहले हमने एक दूसरे की फेमिली के बारे में जाना, फिर काफ़ी देर रात तक हम चैट करते रहे और फिर मैंने उसे बोला कि यू आर वेरी हॉट एंड सेक्सी गर्ल। तो उसने कहा थैंक्स अमन सर, तो मैंने कहा कि तुम मुझे अमन बोलो सर नहीं, तो वो बोली कि ओके। फिर मैंने एक और मैसेज भेजा और कहा कि आई लाइक यू, तो वो बोली मी टू। फिर मैंने आई लव यू बोला, तो उसका कोई रिप्लाई नहीं आया और सुबह जब हम ऑफीस में मिले, तो वो मुझसे पहले आ कर मेरे सिस्टम पर बैठी थी और बोली कि गुड मोर्निंग अमन। तो मैंने भी उसे विश किया और बगल में कुर्सी रखकर बैठ गया और मैंने माउस को पकड़ा, तो उसने अपने मोटे-मोटे बूब्स को मेरे हाथ की कोहनी से टच कर दिया।

अब मेरा खून खोलने लगा कि अभी उसके बूब्स दबा दूँ, लेकिन जब ऑफीस में सब थे। फिर उसने कुछ नहीं बोला, उस दिन वो चुपचाप काम पर ध्यान लगाकर बैठी रही और मेरी तरफ देखा तक नहीं। तो मुझे लगा कि शायद उसे बुरा लगा होगा मैंने उसे आई लव यू कहा है। अब रात में जब में बैठकर टी.वी देख रहा था तो फ़ेसबुक पर उसका मैसेज आया।

भावना : आज आपने मुझसे बात क्यों नहीं की?

में : आपने देखा ही नहीं मुझे तो मुझे लगा कि आप मुझे नहीं चाहती हो।

भावना : नहीं अमन ऐसा नहीं है, बस में कन्फ्यूज़ हूँ।

में : कैसे कन्फ्यूज़ हो?

भावना : यही की आपको मुझसे ये सब 2 दिन में कैसे हो गया? आप अच्छे लड़के हो में आपको मना भी नहीं कर सकती।

में : देख लो आपको जो सही लगे, हम दोस्त तो है ही।

भावना : ठीक है, में सोचकर बताउंगी।

उसके बाद हम बातें करते रहे, तो उसको मैंने कहा कि कल रविवार है हमारी छुट्टी है तो हम मूवी देखने चले। तो वो बोली कि ठीक है और बोली कि अमन में घर पर क्या बोलूंगी? तो मैंने कहा कि बोल देना कि आज ऑफीस ओपन है, तो वो बोली ओके। फिर अगले दिन वो टाईट ब्लू जीन्स और पिंक टी-शर्ट पहनकर आई, वो एकदम मस्त पटाखा लग रही थी। फिर हम मूवी देखने गये, अब में आराम से मूवी देख रहा था और वो भी आराम से मूवी देख रही थी, लेकिन मैंने उसे टच नहीं किया और जब मूवी ख़त्म हुई तो हम थोड़ा घूमे और घर चले गये। फिर रात में मुझे भावना का मैसेज आया आई लव यू अमन, तो मैंने कहा कि अचानक कैसे बोल दिया? तो वो बोली कि मूवी देखते वक्त आपने मेरे साथ कुछ नहीं किया इसलिए आप पर दिल आ गया अमन। फिर अगले दिन ऑफीस में मैंने उसे देखा और उसने मुझे देखा, फिर हमने एक क्यूट सी स्माइल एक दूसरे को पास की, फिर हम काम करने लग गये। फिर कुछ देर के बाद जब मैंने भावना को देखा तो वो पीसी पर कुछ काम कर रही थी। फिर थोड़ी देर के बाद वो मेरे पास कुछ ऐसे ही पूछने स्टोर में आ गई और वो अपना मुँह नीचे करके खड़ी थी। तो में समझ गया कि ये किस करना चाहती है, तो मैंने आस पास देखा तो वहाँ पर कोई नहीं था तो मैंने उसे किस कर दी और वो आई लव यू बोलकर चली गई।

फिर क्या था? अब हम एक दूसरे को ऑफीस में कही ना कही पर किस करते थे, कभी स्टोर, तो कभी सीढ़ियो पर। फिर एक दिन में उसे उसके घर शाम को अपनी बाइक पर छोड़ने गया और फिर मैंने अपनी बाइक एक सुनसान जगह पर रोक दी। तो वो बोली कि अमन बाइक यहाँ क्यों रोकी है? तो मैंने कहा कि आई वॉंट किस यू एंड सक युवर बूब्स, तो वो शर्मा गई। फिर मैंने किस की, बूब्स दबाए, तो वो बोली कि अमन लेट हो रहा है घर जाने दो बाकि कल कर लेना। तो मैंने कहा कि कल मुझे ऑफीस नहीं जाना है और तुम भी नहीं जाओंगी। फिर अगले दिन में उसे बोनता पार्क में ले गया, जो कि मेरे दोस्त ने बताया था कि वहाँ कपल सेक्स करते है। हमारा रूम का कोई जुगाड़ नहीं हुआ तो में उसे बोनता पार्क में ले गया और एक अच्छी सी जगह देखकर उसे एक किस की, अब वो भी मेरा साथ दे रही थी।

अब 10 मिनट के बाद उसकी बॉडी पूरी तरह से गर्म हो गई थी। फिर मैंने उसके बूब्स दबाए और चूसे, उसकी टी-शर्ट उतार फेंकी और में उसके बूब्स पर चढ़ गया मानो जैसे बूब्स नहीं हो मिल्क हो। फिर मैंने उसकी पेंट उतार दी और उसकी चूत को चाटने लगा, अब उसे बहुत मजा आ रहा था। अब उसके मुँह से सिसकियां निकल रही थी और आवाज़े आ रही थी उूउुआअ उुआहह मामांमाआ। फिर कुछ देर में वो झड़ गई और मैंने उसका सारा रसीला रस पी लिया। फिर वो मेरे लंड को चूसने लगी जैसे कोई लॉलीपोप चूस रही हो, अब मुझे बहुत आनंद आ रहा था और मजा भी आ रहा था। फिर मैंने उसे घोड़ी बनाया और अपना लंड उसकी चूत पर मसलने लगा, तो वो बोली कि अब डालो और फाड़ दो मेरी चूत। तो मैंने मेरा लंड हल्का सा अंदर डाला, तो वो ज़ोर से चीखी आआहह माँ, तो मैंने उसका मुँह बंद कर दिया ताकि उसकी आवाज कोई सुन ना ले।

अब उसे बहुत दर्द होने लगा था, लेकिन मैंने फिर भी लगातार धक्के मारे और मेरा लंड पूरा उसकी चूत के अंदर चला गया। अब वो चीख नहीं पा रही थी मैंने उसका मुँह अपने हाथ से बंद कर रखा था। फिर मैंने धीरे-धीरे अपने झटके तेज कर दिए, अब उसकी ब्लडिंग होने लगी और वो रोने लगी और बोली कि अमन आज आपने ऐसा क्यों किया पता नहीं? लेकिन बहुत मजा आ रहा है और ज़ोर से मारो। तो अब मुझे भी जोश आ गया फिर मैंने उसकी चूत मारनी शुरू की। फिर 10 मिनट के बाद वो झड़ गई और अब में भी झड़ने वाला था तो में भी उसकी चूत में ही झड़ गया और उस पर लेट गया। फिर जब हम उठे तो मैंने देखा कि भावना की चूत खून से लथपथ थी। फिर मैंने अपने रुमाल से उसकी चूत साफ की और फिर उसने अपने कपड़े पहने। अब हमें उस पार्क में 4 घंटे हो गये थे तो हम वहाँ से चल दिए, फिर हमने बाहर जा कर कुछ खाया। फिर जब मैंने उसे उसके घर ड्रॉप किया तो वो बोली कि थैंक्स अमन आज लगा कि में एक लड़की हूँ, तुम्हारा लंड बहुत सॉलिड है, तुम्हारे लंड ने मेरी चूत की माँ चोद दी और किस करते हुए बोली कि अब फिर कब चोदोगें? इस बार में तुम्हें अपने रूम पर बुलाऊँगी जब घर पर कोई नहीं होगा, तो मैंने कहा कि ओके। फिर हम अपने अपने घर आ गए थे ।।

Updated: November 27, 2018 — 11:44 pm
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: