जब मैं पहली बार चुदी-1

antarvasna हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम सोनम है। मेरी यह पहली स्टोरी है, मुझे सेक्स का ज्यादा अनुभव नहीं है। मेरी उम्र 23 साल है, मेरी यह स्टोरी 5 साल पहले की है जब में 19 साल की थी, में दिखने में बहुत सुंदर हूँ। उस समय मेरा फिगर ज्यादा मस्त नहीं था, छोटे से बूब्स और छोटी सी गांड थी, लेकिन फिर भी में अच्छी दिखती थी। मेरे 3 छोटी बहने और 1 भाई है। मैंने अपनी छोटी बहनों को भी अपनी तरह चुड़क्कड़ बना दिया है और अपने बॉयफ्रेंड से छोटे भाई की भी गांड फड़वा दी है, अब में सीधी स्टोरी पर आती हूँ।

जब में 12वीं क्लास में थी मेरे सभी फ्रेंड्स के बॉयफ्रेंड थे, वो मुझे उनके बारे में बताती रहती थी कि कैसे वो उनकी चुदाई करते है? हम कभी-कभी साथ में सभी सहेलियां बैठकर ब्लू फिल्म देखती थी। अब मेरा भी मन करने लगा था, लेकिन डर भी लगता था। सोनिया मेरी बेस्ट फ्रेंड थी, वो बहुत बड़ी रंडी थी, हमारे स्कूल के आधे से ज्यादा लड़को ने उसे चोदा हुआ था। फिर उसने मुझसे कहा कि एक लड़का तुझे बहुत पसंद करता है, तुझसे सेटिंग करना चाहता है। तो मैंने पूछा कि कौन है? तो उसने मुझे एक साहिल नाम के लड़के से मिलाया, जिसकी उम्र करीब 23 साल होगी। तो मैंने कहा कि यह तो मुझसे बहुत बड़ा है, तो सोनिया ने कहा कि प्यार में सब चलता है और कहा कि मैंने तेरा नंबर दे दिया है तू साहिल से बात कर लेना, साहिल दिखने में बहुत स्मार्ट था।

फिर रात को 11 बजे के करीब साहिल का फोन आया, फिर हम दोनों बात करने लगे। अब साहिल बहुत ही प्यारी-प्यारी बातें कर रहे थे, अब में उनकी तरफ आकर्षित होने लगी थी। फिर मैंने 2 दिन के बाद साहिल को हाँ बोल दी, अब हमें बातें करते हुए 1 महीना हो गया था। फिर साहिल मुझसे मिलने की कहने लगे, फिर एक दिन सोनिया ने मुझे स्कूल से बंक लगवाकर साहिल के साथ भेज दिया। लेकिन मैंने उसे बहुत मना किया कि कोई देख लेगा, किसी को पता चल जाएगा। लेकिन सोनिया ने मुझसे कहा कि वो सब संभाल लेगी, तू चली जा। फिर में साहिल की कार में उसके साथ चली गई, फिर हम एक सिनेमा में गये और मूवी देखने लगे। अब साहिल मेरा हाथ पकड़कर बैठे हुए थे, तभी एक किस करने वाला सीन आ गया तो अब साहिल मुझे किस करने के लिए कहने लगे। अब मुझे शर्म आ रही थी, फिर साहिल ने मेरा मुँह ऊपर किया और वो मेरे लिप्स को चूसने लगे। अब मुझे भी बहुत अच्छा लग रहा था यह मेरी पहली किस थी, फिर हमने 3 मिनट तक किस किया। अब बीच बीच में साहिल मेरे बूब्स को दबाते रहे।

अब मुझे अजीब सा लगने लगा था, फिर में साहिल के होंठो को चूसने लगी। अब साहिल मेरे लिप्स चूस रहे थे और बूब्स दबा रहे थी, फिर हमने 10 मिनट तक ये सब किया। फिर साहिल ने कहा कि चलो कहीं और चलते है, तो मैंने पूछा कि कहाँ? तो वो कहने लगे कि तुम बस चलो। फिर हम वहाँ से चले गये और साहिल के फ्रेंड के रूम पर आ गये। फिर साहिल ने दरवाजा ओपन किया, फिर हम अंदर चले गये। तो मैंने पूछा कि यहाँ कोई और तो नहीं है, तो साहिल ने मेरे लिप्स पर किस करते हुए कहा कि नहीं जान यहाँ कोई भी नहीं है और मुझे गोद में उठाकर बेड पर ले गये और मुझे किस करने लगे। फिर उन्होंने मेरी कमीज़ के बटन खोल दिए और मेरे बूब्स को मसलने लगे। फिर उन्होंने मेरी पूरी कमीज़ उतार दी। अब में बस स्कर्ट में थी, फिर वो मेरी स्कर्ट के ऊपर से ही मेरी चूत को मसलने लगे। अब में पागल हो रही थी, अब में अपनी चूत को ऊपर उठाने लगी थी।

फिर साहिल ने मेरी स्कर्ट उतार दी और उन्होंने अपने भी सारे कपड़े उतार दिए। साहिल का लंड बहुत बड़ा और मोटा था, अब में उनके लंड को देखकर डर गई थी कि सोनम आज तेरी चूत बुरी तरह फटेगी। फिर साहिल ने अपने लंड को मेरे मुँह के पास रखकर चूसने को कहा तो मैंने मना किया कि बाबू गंदा लगता है नहीं प्लीज़। तो साहिल ने कहा कि आप मुझसे प्यार करते हो ना तो चूसो इसे, तो में चुपचाप उनके लंड को अपने मुँह में ले गई। अब मुझे उनका लंड मुँह में लेकर ऐसा लगा कि जैसे मुझे उल्टी आ जाएगी। फिर भी में उनके लंड को लॉलीपोप की तरह चूसती रही। अब साहिल अपने मुँह से आवाज़ निकाल रहे थे और सिसकियां ले रहे थे। फिर 10 मिनट तक मैंने साहिल का लंड चूसा, फिर आखरी झटके में उन्होंने अपना लंड मेरे मुँह में पूरा मेरे गले तक अंदर घुसा दिया और फिर बाहर निकाल लिया और कहा कि बाबू अब लेट जाओ तो में बेड पर लेट गई। फिर उन्होंने मेरी चूत के मुँह पर अपने लंड का मुँह रख दिया और अंदर की तरफ चूत में अपने लंड को दबाने लगे। मेरी कच्ची चूत थी और बहुत ज्यादा टाईट भी थी।

अब उनका लंड मेरी चूत में अंदर नहीं जा रहा था और में चुदने के लिए पागल हो रही थी। फिर साहिल ने अपना लंड फिर से मेरे मुँह में डाला और 5 मिनट तक अपना लंड चुसवाया। अब जब उनका लंड मेरे थूक से गीला हो गया तो वो अपना लंड मेरे मुँह में से निकालकर मेरी चूत में डालने लगे। अब उनका थोड़ा सा लंड मेरी चूत में अंदर चला गया और मेरे चीख निकल गई, क्योंकि यह मेरी पहली चुदाई थी, अब मेरे आँसू निकल गये थे, अब मेरी आँखे बाहर निकल गई थी। फिर मैंने कहा कि नहीं साहिल मुझे बहुत दर्द हो रहा है। लेकिन अब साहिल पर मेरी चूत का भूत सवार था, अब साहिल ने मेरी एक नहीं सुनी और अपना पूरा लंड मेरी चूत के अंदर डाल दिया। अब में चिल्लाने लगी ऊफफ्फ़ में मर गई आहह मम्मी जान निकल गई। फिर साहिल ने कहा कि जानू पहली बार में थोड़ा दर्द होता है, लेकिन बाद में तुम्हें मज़ा आने लग जाएगा और साहिल मुझे आराम-आराम से चोदने लगे।

Updated: December 6, 2018 — 12:51 am
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: