ज़ोर ज़ोर से चोदो ना मुझे-3

desi kahani: उन्होंने मेरे 7 इंच के लंड को अपने हाथ मे पकड़कर कहा की तेरा तो बहुत ही बड़ा ओर मोटा है (मेरा लंड अंकल के लंड से मोटा है) ओर उन्होने मेरे लंड को अपने मुँह मे ले लिया अब मेरे आनन्द का ठिकाना नही था वो उसे बिल्कुल लोलीपोप की तरह चूस रही थी जैसे कोई बच्चा चूसता है ओर बड़ी ही सेक्सी लग रही थी मेरा लंड अब विशाल होता जा रहा था अब मैने आंटी की बची हुई नाइटी को उतार दिया ओर उन्होने मेरी शर्ट ओर शोर्ट को निकाल दिया अब हम दोनो नंगे थे ओर सेक्स के नशे मे डूबे हुये थे मेने आंटी को 69 की पोज़िशन मे आने को कहा उन्होने जल्दी से मेरे उपर अपनी फूली हुई चूत फैला दी उनकी चूत बिल्कुल गीली हो गयी थी ओर उसमे से अमृत रस आ रहा था जिसे मे बेकार नही करना चाहता था मेने जल्दी से अपना मुँह उनकी चूत पर लगा दिया ओर उनका अमृत पीने लगा मे उसे 3-4 मिनिट तक चूसता रहा.

अब मेरे चाटने से वो थोड़ी काँपने लगी ओर सेक्सी आवाज़े निकालने लगी ओर आउट ऑफ कंट्रोल होने लगी अहहाआहहा आइ लव यू अहहाहाहा आइ लव यू ओह्ह्ह्ह मे गयी प्लीज़ ओर ज़ोर से ओर वो इसी के साथ झड़ने लगी मेने उसका सारा रस पी लिया उसका स्वाद थोड़ा अजीब था लेकिन सेक्स की आग के कारण टेस्टी लगा सो स्वीट दोस्तो कभी आप भी पी कर देखना आप उसे जिंदगी भर तक याद रखोगे अब आंटी बोलने लगी की प्लीज़ डाल दो अब मुझसे नही रुका जा रहा है मुझे तेरे अंकल को याद करके उंगली डाल के काम चलाना पड़ता है कंट्रोल तो मेरे से भी नही हो रहा था लेकिन मेने इस साइट पर अपने भाइयो से सुना था की लड़की को जितना तड़पावोगे उतना ही मजा मिलेगा.

अब मे उन्हे नीचे लेटा कर उनके उपर आ गया ओर अपना लंड हाथ मे पकड़ कर उनकी चूत पर रगड़ने लगा वो बिन पानी की मछली की तरह तड़पने लगी अब मुझसे कंट्रोल नही हुआ ओर मेने एक ज़ोर का धक्का लगाया ओर लंड उनकी खुली चूत के अंदर चला गया मेरी तो चीख निकल गयी मुझे ऐसा लगा जैसे मेरे लंड को किसी ने चाकू (नाइफ) से काट दिया हो मेने अपना लंड बाहर निकाला तो देखा की उसकी स्किन सूपडे पर से उतर गयी है ओर खून निकल रहा है तब आंटी ने कहा की पहली बार मे थोड़ा दर्द होता है तुम्हारे अंकल को भी हुआ था तो मे थोड़ा रिलेक्स हुआ ओर आहिस्ता आहिस्ता से दुबारा अपना लंड उनकी मस्त मस्त चूत मे डाल दिया उनकी चूत बहुत खुली थी शायद अंकल उन्हे रोज चोदते होंगे इसलिये वो भी सॅटिस्फाइड थी उनकी चूत बहुत गर्म थी मेरा लंड चूत मे जाते ही सारा दर्द भूल गया.

अब में धीरे-धीरे अपनी गांड को उपर नीचे करने लगा अब आंटी कहने लगी और ज़ोर ज़ोर से चोदो ना मुझे और ज़ोर से कम जान ऊओह मैं सेक्स के नशे मे कुछ भी बोले जा रहा था मैं भी आज तुझे ज़ोर ज़ोर से चोद चोद के अपनी रंडी बना दूँगा और मैं भी उसे ज़ोर ज़ोर से शॉट मारने लगा और आंटी भी मेरा साथ देने लगी ओर अपनी गांड को उठा उठा के नीचे से मुझे चोदने लगी करीब 20 मिनिट तक मे उसे ज़ोर ज़ोर से धक्के लगाता रहा अब आंटी कहने लगी अब वो झड़ने वाली है तुम अपनी रफ़्तार तेज कर दो मैने अपनी स्पीड बिल्कुल रेल की तरह कर दी आंटी ने मुझे ज़ोर से गले लगा लिया और उसने अपना पानी छोड़ दिया लेकिन मैं अभी भी आंटी को चोद कर मस्त कर रहा था तभी मेंरा भी वीर्य निकल गया और मैंने अपना पूरा वीर्य आंटी की चूत में ही छोड़ दिया और उसके बाद मैं आंटी के उपर ही लेट गया.

मेरा लंड अब भी आंटी की चूत मे था हम 30 मिनिट के बाद उठे अब रात काफी हो चुकी थी ओर हम थक भी गये थे तो हम फ्रेश हो कर आये ओर ऐसे ही नंगे एक दूसरे की बाहों मे सो गये सुबह करीब 6 बजे मेरी नींद खुली तो मैने देखा की आंटी मेरे पैरो के पास लेटी है ओर मेरे लंड को अपनी जीभ से चाट रही है यह देखते ही मेरा भी मूड बन गया मैने आंटी को नीचे लेटने को कहा लेकिन आंटी बोली की नही अब में तुम्हे चोदूंगी वो मेरे उपर आ गयी ओर मेरे लंड को अपनी चूत पर एड्जस्ट करते हुये एक ज़ोर का झटका दिया ओर लंड अपनी चूत मे समा गया मेरी रात वाली सुपाडे की स्किन फिर से दर्द करने लगी लेकिन उतनी नही तो मे अब नीचे से अपना लंड उनकी चूत मे अंदर तक पहुँचाने लगा ओर उनके गर्भ तक टच कराने लगा वो भी पूरे ज़ोर से मेरे मोटे लंड पर उछल रही थी.

अब हमें रात से भी ज़्यादा मज़ा आ रहा था ये मेरी बेस्ट पोजिशन थी जो मे पॉर्न वीडियो मे देखता था हमने करीब 30 मिनिट तक चुदाई की ओर इस टाइम मे आंटी दो बार झड़ी उन्होने मुझे गले से लगा लिया मे भी उनसे चिपक गया ओर कहने लगा थैंक्स आंटी आपने मुझे स्वर्ग का रास्ता दिखा दिया और वो कहने लगी की तुमने भी मुझे पूरा मज़ा दिया अब हमें मोका मिलते ही चुदाई करेंगे .

Updated: October 6, 2019 — 11:28 pm
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: