लाला ने बीवी चोद डाली-1

antarvasna हाय रीडर्स-आपकी लंड गुदगुदाने वाली स्टोरी पढ़ कर बहुत मज़ा आता है- मैने सोचा में भी लिखू अपनी आप बीती. सब के जीवन मे सेक्स इन्जॉय करने का वक़्त आता हैजवानी मे हमारा भी वक़्त आया शादी हुई बीवी आई नॉर्मल सेक्स लाइफ इन्जॉय की-बच्चे भी हुये अब बड़े होकर शादी

कर के बाहर चले गये है. हम मिया बीवी रह गये है. आगे मेरी उम्र 52 और बीवी 47 साल की है बनिया होने की वजह से वजन बड़ा हुआ पेट आगे निकला हुआ लम्बाई 5’5 रंग सांवला पेट 44 भारी गांड लंड खड़ा होने पर 4 इंच”. बीवी गोरी भरा हुआ बदन हाइट 5’ बड़े बड़े बूब्स 38 और कमर 36 भारी भारी गांड शायद 40. पहनने ओढ़ने की शौकीन. अच्छी मांसल सेक्सी लगती हैहम अकेले ही घर मे रहते है, ब्याज किराये की अच्छी इनकम हो जाती है. बच्चे थे उन्ही मे बिज़ी रहते रात को कभी कभी मौका मिला तो जल्दी जल्दी चोदा चोदी कर ली जल्दी जल्दी निपटना पड़ता था कोई जाग ना जायेअकेले रहने से खुली चूत मिल गई, 4-5 साल से जम कर चोदा चोदी होती थी, ब्लू फिल्म की सीडी टी.वी पर चड़ा कर देखते, ग्रूप सेक्स की सीडी जिसमे जोड़े पार्ट्नर बदल कर चोदते थे एक दूसरे के लंड चूत चूसते फिर ग्रूप चुदाई करते. लंड सबके बहुत बड़े बड़े रहते थे, बीवी बड़े लंड को ललचाई नज़र से देखती थी, मेरा लंड भी छोटा होने की वजह से में भी बड़े लंड को उत्सुकता से देखता था.

बीवी कहती है कितने बड़े बड़े लंड है पार्ट्नर इतना बड़ा लंड चूत मे कैसे ले लेती है, देखो कितना उछल कर ले रही है, इतना बड़ा लंड कह कर मुझसे चिपक जाती और मेरी चड्डी मे हाथ डाल कर मेरे लंड से खेलने लगती, मे उसके बूब्स मसलने लगता, फिर अपने कपड़े उतार देते में उसके बूब्स की निपल मुहँ मे ले कर चूसने लगता वो मेरे छोटे से लंड को मूठी मे ले कर आगे पीछे करती रहती थी, और फिर नीचे जा कर उसकी चूत के दाने को मुहँ मे भर कर चूसता रहता था. वो मदहोश हो कर सिसकारिया भरती और में अपनी जुबान से उसकी चूत को चोदता था. कुछ देर बाद हम 69 के पोजिशन में हो जाते और वो मेरा लंड मुहँ मे भर कर मेरे लंड के सुपड़े को चाटती और मे लंड पूरा उसके मुहँ मे घुसेड कर आगे पीछे कर उसको मुहँ में ही जोर से धक्के देता. थोड़ी देर बाद वो सिसकीयां कर चूत का पानी छोड़ देती थी और मे फिर उसे सीधा लेटा कर टाँगे कंधे पर रख कर उसकी चूत मे लंड पूरा घुसा कर जम कर धक्के लगाता और फिर 5-7 मिनिट में हम दोनो झड़ कर शांत हो जाते थे. अब इन दिनो लंड ढीला रहने लगा है कभी कभी ही खड़ा होता है लेकिन बीवी उतनी की उतनी गर्म है. मैने सोचा क्यो ना इसको बड़े लंड का मज़ा दिलाऊँ और में भी लंड को देखु और हम दोनो मिल कर बड़े लंड से खेले. वो भी चुदवाये और मुझे भी मज़ा आये.

इन दिनो हमारे पड़ोस मे एक फैमिली रहने आई थी, यंग कपल दोनो ही सर्विस करते थे साथ मे उनके पिताजी भी थे उनके पत्नी नहीं थी, बीवी की 5 साल पहले मोत हो गई थी. उम्र करीब 56-57 लंबे चौड़े 5’8” गठीला बदन. एक ही फ्लेट था. लड़का बहू सर्विस करने चले जाते थे, बाबा अकेले रहते थे, हमसे दोस्ती हो गई, वो दिन मे आ जाते थे चाय नाश्ता करने और प्लेयिंग कार्ड भी खेलते थे. धीरे धीरे हसी मज़ाक भी होने लगा. और कभी कभी जोक्स भी हो जाते थे. एक दिन मेरे मुहँ से निकल गया की में ढीला लंड बनारसीदास का हू. वो बोले आपका होगा ढीला लंड यहा तो हमेशा तनतनाता रहता है. मैने पूछा कितना बड़ा है वो बोले बहुत लम्बा है. बीवी नही है इसलिये मन मार कर रहना पड़ता है. रात भर बेटे बहू के पलंग का चड़ चड़ चू म्यूज़िक चलता रहता है. क्या करे लंड पर हाथ रख कर रहना पड़ता है कभी मूठ भी मार लेता हू. मैने कहा में व्यवस्था करू क्या वो बोले कैसे तो मैने कहा मेरी बीवी जो है. मेरा लंड आजकल ढीला ही रहता है. दोनो मिलकर शेयर करेगे. वो बोले भाभी मान जायेगी क्या. मैने कहा में बात करता हू. कल आप तैयार होकर आना.

मैने उसी वक़्त भीतर जा कर बीवी को बाहो मे लिया चूमा चाटा और चोदने के लिये बेड पर लिटा दिया उसके कपड़े उतारे और खुद भी नंगा हो गया लेकिन लंड खड़ा नही हो रहा था. बीवी बोली आपका लंड खड़ा ही नही हो रहा है क्या चोदोगे. ऐसे मज़ा नही आता. चोदने के लिये लंड तनतनाता रहना चाहिये तभी मज़ा आता है. मैने कहा तुम चाहो तो तनतनाता लंड की व्यवस्था हो सकती है. वो बोली कैसे मैने कहा पड़ोसी लाला जी बिना पत्नी के है और उनका लंड हमेशा तनतनाता रहता है. उसने पूछा आपको कैसे मालूम मैने कहा वो आज बोल रहे थे उनका लंड हमेशा तनतनाता रहता है. वो कल आयेगे तैयार रहना. वो बहुत खुश हुई और रात भर मेरे ढीले लंड से खेलती रही, कभी मुहँ मे लेती कभी खीचती. धीरे धीरे मेरा लंड भी खड़ा हुआ और हमारी जम कर चुदाई हुई. दूसरे रोज पड़ोसी लाला जी जैसे ही उनके बेटे बहू काम पर गये वो हमारे यहा आ गये. मेरी बीवी उनके लिये चाय ले कर आई, फिर प्लेयिंग कार्ड्स चले उसमे एक बार प्लेयिंग कार्ड मे मेरी बीवी हार गई तो मैने पेलेन्टी मे लाला जी के सामने ही उसको बाहो मे भर लिया और उसको किस किया. फिर एक बार लाला जी उससे जीत गये तो मैने कहा लाला जी आप भी पेलेन्टी वसूल करिये चुकिये मत. लाला जी ने मेरी बीवी को बाहो मे भरा, और जम कर किस किया, मेरी बीवी ने भी अपनी बाहे लाला जी के गले मे डाल दी और उनसे चिपक गई.

Updated: May 8, 2019 — 9:45 pm
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: