मेरा 8 इंच का लंड-2

hindi sex kahani: उसकी कमीज़ उसके बदन से चिपक गई थी और उसका पेट और नेवेल साफ दिख रहे थे मेरा लंड तो तन गया मन मे आया आज इसका रेप कर देता हूँ लेकिन तभी लॉ बेटरी की वजह से मेरा फोन भी बन्द हो गया मैने उससे कहा मे तुम्हे टावल और अपने शॉर्ट्स कपड़े दे देता हूँ तुम अंदर वाले रूम मे चेंज कर लेना अंधेरा होने की वजह से मै टावल ढूँढने के बहाने पूरा नंगा हो गया उसे टावल पकडाते वक़्त मैने जानबुझ के अपना हाथ उसके बूब्स के भी लगा दिया शिल्पा बोली मैं चेंज कर लेती हूँ इतने में तुम कोई मोमबत्ती ढूँढ लो मैने शरारत मैं कहा “मोमबत्ती की क्या ज़रूरत है मैं हूँ ना यहा पर” और हंस पड़ा वो भी हंस पड़ी और बेशर्म बोल के रूम मे जाने लगी मेरे रूम मे जाने के दो दरवाजे हैं मैं चुपचाप से दूसरे दरवाजे से अंदर घुस गया उसने धीरे से अपनी कमीज़ उतारी और फिर सलवार खोलने लगी मुझे उसकी गर्म साँसे महसूस हो रही थी.

अब वो ब्रा खोलने ही लगी थी की एकदम से लाइट आ गई अब वो खड़ी थी शीशे के आगे और मैं बिल्कुल उसके पीछे इससे पहले की वो कुछ बोलती मैने उसको पीछे से पकड़ लिया और अपना लंड उसकी गांड पर रगड़ने लग गया वो घबरा गई और बोली ये क्या कर रहे हो मैने कहा शिल्पा आई लव यू पहले दिन से आज तो तुम्हे मेरा होना पड़ेगा वो घबरा गई और दीवार से चिपक के खड़ी हो गई मैं उसके सामने पूरा नंगा खड़ा था मैं भी उसके चिपक गया और उसे चूमने लगा उसके होठो को चूसने लगा और एक हाथ उसकी पेंटी के उपर से रगड़ने लगा शिल्पा का फिगर 36-28-34 होगा और वो गोरी सी ब्लेक ब्रा पेंटी मे सूपर हॉट लग रही थी मैं उसे किस करे जा रहा था और आई लव यू बोले जा रहा था बारिश की ठंडक और नंगे शरीर ने कब उसे भी गर्म कर दिया पता ही नही चला और वो भी मुझे चूमने लगी और मेरे लंड पर हाथ फेरने लगी.

मैने उसे धक्का देकर बेड पर लेटा दिया और जल्दी जल्दी उसकी ब्रा और पेंटी फाड़ दी अब वो गोरी प्यासी रंडी की तरह नंगी पड़ी थी उसकी चूत पर काफ़ी बाल थे जो गीली पेंटी की वजह से चमक रहे थे मैने उसकी चूत पर अपना मुँह रख दिया और चाटने लगा वो तड़प उठी और आवाज़ें निकालने लगी आहह आ श आर्यन आज मेरी चूत को अपनी गर्मी से भर दो अहह” मैं 15 मिनिट तक उसकी चूत चूसता रहा और वो फिर झड़ गई और फिर मेरा लंड चूसने लगी और जेसे काफ़ी समय से बेचैन हो जैसे ही उसने अपना हाथ मेरे लंड पर लगाया और चूसने लगी मैं तो जैसे पागल हो गया 10 मिनिट के बाद मैं भी उसके मुँह मे झड़ गया.

उसे मेरा पानी चाटता देख मेरा लंड फिर खड़ा हो गया उसके पिंक बड़े निपल, गीले बॉल और नंगे बदन पर चुन्नी देखते ही मैं उस पर कूद पड़ा मैने उसकी चुन्नी हटाई और उसकी चूत पर अपना लंड लगाया और एक ज़ोर का झटका दे मारा वो मना करती रह गई और मेरा 8 इंच का लंड आधा उसकी चूत मे घुस गया “आर्यंन्न्न् अहहह नही मैने एक और झटका मारा और मेरा पूरा लंड अब मेरी शिल्पा की चूत मे था वो रो पड़ी मैं में थोड़ी देर रुका और फिर धीरे धीरे अपना लंड अंदर बाहर करने लगा अब उसे भी मज़ा आ रहा था चोदो और तेज आ आह आई लव यू मुझे अपनी रंडी बना लो 15 मिनिट तक पेलने के बाद मैं शिल्पा की चूत मे ही झड़ गया.

फिर हम नंगे ही सो गये सुबह वो जब उठी तो उसने अपनी चुन्नी लपेटी और किचन मे जाने लगी उसकी हिलती मटकती गांड देख कर मेरा लंड फिर खड़ा हो गया वो किचन मे गई तो मैने चुपके से वेसलीन अपने लंड पर लगाई और उसके पीछे पीछे किचन मे पहुँच गया इससे पहले वो कुछ समझती मैने तेल उठाया और उसकी गांड के छेद मे डाल दिया और तुरन्त मेरा लंड उसकी गांड मे फिसलता चला गया वो चिल्ला उठी “ऊई माँ मैं तो मर गई” वो चिल्ला ही रही थी की मैने उसके होठो को चूम लिया और उसके बोबे दबाने लगा.

जब वो थोड़ी शांत हुई तो मैने अपना लंड अंदर बाहर करना चालू कर दिया धीरे धीरे वो भी अपनी गांड आगे पीछे करने लगी 20 मिनिट तक पेलने के बाद मैं झड़ गया और वो वही किचन मे लेट गई उस दिन वो काम पर नही गई क्योकी वो चलने लायक नही बची थी उस दिन मैने शिल्पा को कई बार चोदा तो आपको मेरी कहानी पसंद आई होगी..

Updated: October 9, 2019 — 8:23 pm
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: