मेरी गर्लफ्रेंड लंड की प्यासी

हाई फ्रेंडस, क्या हाल है आप सबके? मेरा नाम हनी है और मैं अमृतसर का रहने वाला हु. मेरी उम्र १९ साल है और मैं सेक्स का बहुत दीवाना हु. मेरा लंड ८ इंच लम्बा और ३.५ इंच मोटा है और मुझे आंटी और भाभी को सैटइस फाई करना बहुत पसंद है. अब मैं ज्यादा टाइम वेस्ट ना करते हुए, अपनी कहानी पर आता हु. अब सारी लडकिया अपनी फिंगर अपनी चूत पर रख ले और सभी लड़के अपने लंड निकाल ले और शुरू हो जाए. ये स्टोरी मेरी और मेरी गर्लफ्रेंड की है. उसका नाम ज्योति था और क्या बताऊ यारो…. क्या मस्त सेक्सी हॉट फिगर थी. उसकी… एकदम टाइट बॉडी थी. देखते ही उसके साथ सेक्स करने का मन करता था. हमारा रिलेशनशिप स्कूल से शुरू हुआ था. मैंने उसे स्कूल में कई बार किस किया था.

ये दो महीने पहले की बात है. वो मेरे घर के पास ही रहती थी और हम आपस में मिलते रहते थे और रात को भी फ़ोन पर बातें करते थे. एकदिन मैंने उस से रोमेंटिक बातें करनी शुरू कर दी फ़ोन पर और उसे सेक्स के लिए कहा. पर उसने मना कर दिया. मैंने उसे बहुत मुश्किल से मनाया, वो मान गयी. मैं बहुत खुश था. पर मैं देख रहा था, कि कब सही मौका मिलेगा और मैं उसके साथ सेक्स करूँगा. आखिर एक दिन मुझे मौका मिल ही गया. उसके घर के सारे लोग शादी पर जाने वाले थे और रात को लेट घर आने वाले थे. उस दिन ज्योति ने ठीक ना होने का बहाना बनाया और घर पर ही रुक गयी. दोस्तों, क्या बताऊ आपको, मैं कितना खुश था उस दिन. जब उसके घर वाले चले गये, मैं १० मिनट के बाद उसके घर चले गया और उसे जाते ही हग कर लिया और किस्सिंग स्टार्ट कर दी. मुह्ह्हह्ह मुह्ह्हह्ह मुह्ह्हह्ह… मैंने उसे दिवार के साथ लगा दिया और उसके होठो को चूसने लगा. वो भी मेरा साथ दे रही थी.

मैंने हाथो से उसके बूब्स भी प्रेस करने शुरू कर दिए… क्या मुलायम दूध थे उसके.. वो सिसकिया लेने लगी अहहाह अहहहः एससस स्स्स्स आइऔऔऐऐइ ईईईइ अहहः मुह्ह्ह्हह्ह मुह्ह्हह्ह.. हम १५ – २० मिनट तक किसींग करते रहे और फिर मैंने उसे बेड पर बैठाया. मैंने सूट के ऊपर से ही उसके बूब्स को पकड़ लिया और उसके बूब्स को प्रेस करने लगा. फिर मैंने एक हाथ उसकी सलवार में डाल दिया… क्या गर्मी थी वहां पर… घने बाल… और क्या मस्त टाइट चूत थी… मैंने उसमे ऊँगली डाल दी. फिर मैंने अपना दूसरा हाथ उसके सूट के अन्दर डाल दिया और उसके दूध को प्रेस करने लगा. क्या मस्त बूब्स थे उसके… बिलकुल सॉफ्ट रुई की तरह… वो आवाज़े निकाल रही थी अह्हहः अहहाह अहः यीहेहेहेहेह हहहः आआ मुह्ह्ह्ह मुह्ह्ह्ह मम्मा मूऊऊ… वो गरम हो रही थी. मैंने उसका सूट उतार दिया और उसने पिंक कलर की ब्रा पहनी हुई थी. क्या लग रही थी वो… उसका गोरा रंग था उसका. मैंने उसकी ब्रा उतार दी और उसके दूध आजाद हो गये. फिर मैंने उन्हें अपने मुह में डाल लिया और चूसने लगा और हाथ से दबाने लगा. मैं अपने दोनों दातो से उसके निप्पल काट रहा था और वो मेरे हेड को अपने बूब्स पर प्रेस कर रही थी और मजे ले रही थी… उसके दूध मसलने और चूसने की वजह से वो लाल हो गये थे.

मैं उसके जिस्म को चाट रहा था.. बिलकुल कुल्फी की तरह.. फिर मैंने उसकी सलवार भी उतार दी… क्या मस्त चूत थी उसकी… घने बाल थी उसकी चूत पर.. पर मैंने अपनी ऊँगली उसकी चूत में डाल दी अहहहः हहहः एस स्स्स्स येस्स्स्सस्स्स्स मूऊऊ मुह्ह्ह्हह्ह अहहहहः ऊऊओ ऊऊह्ह करने लगी. थोड़ी देर बाद, मैं उसकी चूत को लिक करने लगा. मैंने अब अपनी जीभ उसकी चूत में डाल दी.. क्या मस्त खुशबु थी उसकी और चाटने लगा पागलो की तरह… मैं उसकी चूत के दाने को दातो से काट रहा था… वो पूरी तरह से गरम हो चुकी थी और मुह से सेक्सी आवाज़े निकाल रही थी… अहहाह अहहहः ओओओओओं बुझा डालो मेरी प्यासस्स्स्सस्स्स्स स्सस्सस्स यायायायायायाय ईएसस्स्स्सस्स्स्स .. थोड़ी देर ऐसे करने से वो झड़ गयी और उसकी चूत का नमकीन पानी मेरे मुह में आ गया था.. क्या स्वाद था मुह्ह्हह्ह… मुझे पी कर बड़ा मज़ा आया. फिर मैंने अपनी शर्ट उतार दी और उसके जिस्म से अपने जिस्म को टच करने लगा और १० मिनट ऐसा करने के बाद हम दोनों बहुत गरम हो चुके थे और बाद में उसने मेरी पेंट उतार दी और लंड देख कर हसने लगी. उसने लंड हाथ में पकड़ लिया. उसके हाथ में पकडे जाने से मेरा लंड पूरा हार्ड हो गया और अपनी शेप में आ गया.

वो उसे हिलाने लगी और मेरा मुठ मारने लगी. मैंने उसे लंड को मुह में डालने के लिए कहा.. पर उसने मना कर दिया. मेरे बहुत कहने पर आखिर वो मानी और उसने लंड को अपने मुह में डाल लिया और चूसने लगी. वो ऐसे चूस रही थी, जैसे खा ही जायेगी. फिर १० मिनट के बाद, मैं उसके मुह में ही झड़ गया और वो मेरा सारा माल पी गयी और मेरे लंड को चाटने लगी और उसने पूरा का पूरा साफ़ कर दिया. मैंने अपने लंड पर कंडोम चढ़ाया और उसे लेटने को कहा और उसको उसकी टाँगे फैलाने को कहा. उसने वैसा ही किया और उसकी चूत अब लंड के लिए तरस रही थी. वो मुझे कहने लगी, अब डाल दो… मुझे और मत तड़पाओ. वो पूरी तरह से गरम हो गयी थी. मैं फिर उसके ऊपर गया और अपना लंड उसकी चूत पर सेट किया और धीरे से धक्का दिया… क्या टाइट चूत थी… तब मुझे पता लगा, कि वो अभी तक वर्जिन ही थी.

अब मैंने उसको एक और धक्का दिया, तो उसकी चूत से खून बहने लगा और वो चिल्लाने लगी अहहाह अहहाह अहहह्हा हहहः आओओओओओं ऊउऊऊऊ उईईई माँआआआआअ आआअ माँ आआआआअ मर गयीईईईईइ.. उसने मुझे लंड निकालने के लिए बोला. पर मैं नहीं माना और उसके लिप को अपने लिप पर लॉक कर लिया और एक और जोरदार धक्का दिया. अब मेरा पूरा लंड उसकी चूत में समां गया. वो चिल्लाने लगी अहहहः अहहहः अहहाह अहहः मर गयी… मैं तो. अहहाह अह्ह्ह अहहाह ऊऊओह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्. उसकी आँखों में आंसू आ गये थे और वो कांपने लगी. मैं थोड़ी देर रुक गया और थोड़ी देर लंड अन्दर – बाहर करने लगा. वो धीरे – धीरे नार्मल होने लगी थी और थोड़ी देर बाद वो मेरा साथ देने लगी.. अहः अहहः एस एस एस फक मी… बुझा दो मेरी प्यास… नौच डालो मुझे आज… आहाह्हा अहहाह अहहाह मुह्ह्ह्ह मुह्ह्ह्ह फाड़ डालो… फिर उसने कहा – कंडोम निकाल दो… मज़ा नहीं आ रहा है. मैंने उसे कहा – जो हुकुम सरकार… उसके कहने पर मैंने कंडोम उतार दिया और फिर मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर टीश्शु पेपर से साफ़ किया और दौबारा लंड डाल दिया. अब मुझे भी मज़ा आ रहा था. वो अहः अहहाह अहः अओअओअओअ ओओओं करके मेरा साथ देने लगी और मेरा जोश भी बढ़ रहा था.

वो थोड़ी देर बाद फिर झड़ गयी और उसकी चूत गीली हो गयी और पच पच की आवाज़े आने लगी. करीब २० मिनट के बाद मैं भी झड़ने वाला था और उसने माल बीच में ही छोड़ने को कहा और मैंने माल बीच में ही छोड़ दिया. हम दोनों करीब ५ मिनट तक उसी पोजीशन में पड़े रहे और थोड़ी देर बाद रिलैक्स करके मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. मैंने उसे भी गरम कर दिया चूस – चूस कर. फिर मैंने उसकी गांड मारने की सोची और उसने मना कर दिया. पर मैं कहाँ मानने वाला था. मेरे बहुत कहने पर, वो आखिर मान ही गयी और और गांड मरवाने के लिए राज़ी हो गयी. मैंने उसे तेल लाने के लिए कहा और वो किचन से तेल ले आई. फिर मैंने उसे घोड़ी बनने के लिए कहा और तेल अपने लंड पर लगाया और उसकी गांड के छेद की तेल से मालिश करके; अपने लंड को उसकी गांड के छेद पर लगाया. फिर मैंने एक जोर का धक्का लगा दिया और अभी मेरा आधा लंड ही अन्दर गया था… क्या मस्त टाइट गांड थी उसकी. वो चिल्लाने लगी आआआआआ मर गयीईईईईईईईईईईईईई अहः अहहः अहहहः आओओओओं… वो मुझे लंड निकालने को बोलने लगी.

पर मैं नहीं मान रहा था.. मैंने अच्छी तरह से उसको पकड़ा और एक और धक्का मारा और मेरा अब सारा लंड उसकी गांड में फिट हो गया. उसकी गांड इतनी टाइट थी, कि मेरा लंड भी दर्द करने लगा.. फिर मैं थोड़ी देर रुका और धीरे – धीरे धक्के देने लगा और उसके मुह से हॉट सेक्सी आवाज़े निकलने लगी अहः अहहाह अहहाह मर गयी… मुह्ह्ह्ह मुह्ह्ह्ह अहहाह अहहः अहहः. फिर वो भी मेरा साथ देने लगी और मैं तेज हो गया. वो भी मेरा साथ देने लगी और अपनी गांड आगे – पीछे करने लगी. मैं थोड़ी देर ऐसे ही स्पीड में धक्के मारने लगा और कुछ देर बाद मैं झड़ने वाला था और मैंने अपना लंड जल्दी से निकाला और देखा, कि गांड का साइज़ बहुत खुल गया था. मैंने अपना लंड उसके मुह में डाल दिया और वो उसे चूसने लगी और मैं उसके मुह में ही झड़ गया और वो मेरा सारा माल पी गयी. हम थोड़ी देर एक दुसरे से नंगे चिपके रहे और एक दुसरे के ऊपर लेटे रहे.

बाद में हमने कपड़े पहने. हम बहुत थक चुके थे. इसलिए मैं अपने घर चले आया. जब मैं चला था, तो मैंने उसको लॉन्ग लिप किस किया और हग किया. मैंने देखा, कि उसकी गांड सूजी गयी थी और उस से चला भी नहीं जा रहा था. तो दोस्तों, कैसी लगी आपको मेरी ये स्टोरी.. अपने विचार मुझे अपने कमेंट में जरुर बताना.. आई एम् वेटिंग…

Madhu

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *