मेरी वाइफ बिनल-8

hindi chudai ki kahani

मुझे ये सब देख के लगा कि बिनल अगर उसके साथ अकेले गई तो जरूर न जरूर कुछ अद्धभुत होगा और इतने दिन तक घर पे अकेले में उनके बारे ने सोच के आराम से हस्तमैथून कर सकूंगा। मुझे बिनल के साथ संभोग से ज्यादा उसके बारे में सोच के हस्तमैथुन करने में ज्यादा मजा आने लगा था। बिनल का जिस्म मेरे लिए तो पुराना हो चुका था लेकिन वो इतनी खूबसूरत ओर कामुक थी कि किसी और के लिए तो जैसे वो काम वासना को जगाने वाली एक अप्सरा से कम नही थी, शादी से पहले मेरे बहुत सारी गर्ल्स के साथ अफेयर यौनसंबंध रह चुके है,लेकिन जैसे समय बीत गया में इन सब से थक गया था,और इन सब के बारे में मुझे कुछ कामुकता जैसा भी नही लग रहा था। में जो भी करना चाहता था वो बिनल के साथ ही करना चाहता था मेरी कल्पनाओ में उसके सिवा किसी और को में ला भी नही सकता था।

बस तब से यह सवाल बार बार मेरे दिमाग मे आता रहता “ कि कैसे में मेरी वाइफ को मुझे cuckold करने के लिए रेडी करू।?”

आखिरकार कई सालों बाद ऐसी कल्पनाको फैल होते हुए देख मुझे खयाल आया कि अब तो मुझे इसकेलिए कुछ सीरियस कदम लेने होंगे। मेने मेरी वाइफ को “गर्ल नाईट आउट” में कई बार सहेलियो के साथ जाने के लिए कहा , लेकिन उसने इन सब का विरोध किया। में उसे अपने पहले अफेयर के बारे में उसके पहले लवर के बारे में बताने के लिए कहा , और मुझे उसके पहले अफेयर के बारे में बहुत कुछ बताया लेकिन वो भी मुजे इतना खास उत्साहीत नही लगा।

लेकिन अब ये बहुत अच्छा मौका था जो में हाथ से जाने नही देना चाहता था।

दूसरे दिन जब में आफिस में था तब मैंने बिनल को कॉल किया।

“ hi डार्लिंग सॉरी मेरे बॉस ने मुझे छुटी देने से मना कर दिया है और आफिस वर्क इतना है कि ओवरटाइम भी करने को कहा है, सॉरी डिअर में तुम्हारे साथ नही आ सकता और तुम कुछ भी करके ट्रेनिंग का पोस्टपोन करवा दो तुम भी मत जाओ”

( मुझे पता था कि ये पॉसिबल नही था क्योंकि बिनल की नई जॉब थी और वो अगर ट्रेनिंग पूरी न करे तो उसका इंक्रीमेंट भी रुक सके ऐसा था)

बिनल ने कहा “ नही डार्लिंग मुझे तो जाना ही पड़ेगा ऊपर से आर्डर है तो ये मुमकिन ही नही है कि में इग्नोर कर सकू”

मेने कहा “ anyway शाम को घर पे बात करते है फिलहाल तुम जाने की तैयारी करो में तुम्हारी फ्लाइट बुकिंग का बंदोबस्त करता हु।” सब ठीक हो जाएगा “ And you are a brave girl , और ये सिर्फ तीन दिन का ही तो सवाल है तुम कर सकती हो” बिनल को मेने हिम्मत देते हुए कहा।

फिर शाम को लिविंगरूम में सोफे बैठे थे , बिनल की जांघो पे सिर रख के में tv देख रहा था , और मैने बिनल से कहा “अरे में तुम्हे बताना भुल गया कि मंडे तुम्हारी फ्लाइट बुक करनी थी लेकिन उस दिन की सभी फ्लाइट तो आलरेडी बुक है और सूरत से गोवा के लिए फ्लाइट भी कम है।

बिनल ने कहा “ अरे अब क्या होगा?” मैं कैसे जाऊंगी और जाना तो पड़ेगा ही आज ही हमारे चीफ ने मुझे कहा कि बिनल ट्रेनिंग तुम्हारे कैरियर के लिए बहुत थी इम्पोर्टेन्ट है।”

मेने कहा “वो तुम्हारे नए मैनेजर वो कैसे जायँगे उनको पूछो कुछ रास्ता निकल जाए।”

बिनल ने कहा “ हां उनको कॉल करना पड़ेगा”

बिनल ने उनको कॉल किया और पूछा “ हां सर् बिनल बोल रही हु अपने गोवा जाने का की प्लानिंग किया है?”

विकास यानी विकी सर् ने कहा “फ्लाइट तो अवेलेबल नही है तो में सोचता हूं कि सैटरडे ही अपनी कार लेके निकल जाऊ तो मंडे मॉर्निंग तक तो में पहुच जाऊंगा” तूमने क्या प्लानिंग किया?

बिनल ने कहा “ मेरा भी यही प्रॉब्लम है सर् अब कैसे जाऊ वही सोच रही हु।”

विकी सर् ने कहा “अगर तुम्हें कोई ऐतराज ना हो तो तुम मेरे साथ आ सकती हो लेकिन कल में निकलने वाला हु”

बिनल ने कहा में आपको थोडी देर में मेरे हसबंड से बात करके बताती हु थैंक यू सर् ,” ऐसा कहके उसके कॉल काट दिया।

मेने पूछा “ क्या कहा तुम्हारे विकी सर् ने?”

बिनल ने कहा “ वो तो कार से जा रहे है कल वो पूछ रहे थे की में अगर आना चाहू तो वो मूझे ले जायँगे वैसे भी वो अकेले जा रहे है।” अब आप बताओ में क्या करूँ?”

मेरे मन में तो जैसे कल्पनाओ का बवंडर मच गया कुछ देर तो में सोचता ही रह की बिनल उसके सर् के साथ अकेले जाएगी दो दिन का रास्ता है वो कहा पे ठहरेंगे , रास्ते मे क्या क्या बाते करेंगे क्या क्या होगा” ये सब सोचने के बाद मेने बिनल से कहा।

“देखो और कोई रास्ता तो है नही और तूमने गोवा में कुछ देखा भी नही तो बेहतर है कि तुम सर् के साथ जाओ और वो तुम्हारे सर् है तक तुम्हे कोई प्रॉब्लम भी नही होगी।”

बिनल ने कहा “मुझे तो कोई प्रॉब्लम नही है जाना तो पडेगा ही लेकिन आपको तो कोई प्रॉब्लम नही है ना में अकेली उनके साथ जाऊंगी तो?”

मेने कहा “ नही डिअर मुझे तुम पर पूरा भरोसा है तुम इन सब बातों को दिमाग से निकाल दो अपने सर् को कॉल करो कल में उनके घर तुम्हे ड्रॉप कर दूंगा “

बिनल ने फिर से कॉल किया “सर् आपको ऐतराज न हो तो कल में आपके साथ आना चाहूंगी, क्योंकि और कोई रास्ता नही है।”

विकी सर् ने कहा “अरे इसमें क्या ऐतराज होगा में तो अकेला जाने वाला था मुझे तुम्हारी कंपनी मिलेगी तो अच्छा रहेगा लंबा सफर है तो तुम्हारे साथ बाते करते हुए काट जाएगा और दोनों की मंजिल भी तो एक है”

बिनल ने कहा “अच्छा सर् थैंक यू में कल मॉर्निंग में आपके घर आ जाऊंगी”

विकी सर् ने कहा “ok मॉर्निंग 8 बजे में wait करूँगा गुड नाईट सी you in morning.”

बिनल ने मुझसे कहा चलो कल मॉर्निंग में निकलना है तो मूझे बैग पेक करने में जरा हेल्प कर दो”

फिर हम बैडरूम में जा के बैग पेक करने लगे बिनल ने उसके सभी कपड़े अंडरगारमेंट्स और मेकअप किट ले ली , मेने उसे कहा “अरे गोवा जा रही हो वह इतने सारे कपड़े की जरूरत नही है”

उसने कहा “में वह ट्रेनिंग के लिए जा रही हु डिअर नही की हॉलीडेज एन्जॉय करने के लिए”

फिर बेग पैक करने के बाद हम सो गए में कल के लिए बहुत ही उत्साहित था।

 

Updated: July 4, 2018 — 12:20 am
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme