मेरी वाइफ बिनल-9

sex stories in hindi

मॉर्निंग में उठा तो देखा कि बिनल तो रेडी हो गई थी उसने लाइट मेकअप भी किया था और बहुत ही खूबसूरत लग रही थी , में भी जल्दी से रेडी हो गया उसे विकी के घर ड्राप करने जाना था। दोनो हम कार लेके निकले रास्ते मे बिनल ने मूझे बताया कि “ विकी सर् अकेले ही रहते है और उनकी वाइफ बिहार में ही रहती है अभी नए नए इस शहर में आये है इसीलिए वाइफ को नही लाये लेकिन जल्दी ही बुला लेंगे” ये सब बाते करते करते हम विकी के घर पोहच गए। वो कार में अपना सामान ही रख रहे थें उन्हों ने हमदोनो को वेलकम किया और बिनल के बैग को भी कार की डिकी में रखने को कहा मेने बिनल का बैग उनकी कार में राख दिया। मेने देखा कि जैसा मैंने उन्हें फ़ोटो में देखा था वैसे ही वो थे मुझसे शायद 5 साल उम्र में बड़े और बिनल से तो 10 साल बड़े लेकिन हैंडसम थे और थोड़े मोटे लेकिन तंदुरस्त लग रहे थे।

विकी सर् ने मुझे कहा “जेंटलमैन don’t worry about your wife I ll take care of her”

मेने कहा “थैंक यू सर् की अपने बिनल की मदद की”

और वो दोनों कार में बैठ गए बिनल भी आगे की सीट पर ही बैठी और विकी सर् ने कार ऑन की बिनल मेरी तरफ निराश होकर देख रही थी मेने मुश्कुराके उसे कहा निराश मत हो थोड़े ही दिन में तुम वापस आ जाओगी ओर दोनो को गुडबाय कहके हम अलग हो गए।

अब बिनल की जर्नी स्टार्ट हो चुकी थी मुम्बई हाइवे पे उनकी गाड़ी हवा से बाते करते हुए जा रही थीं, थोड़ी देर तो बिनल चुप ही रही फिर विकी सर् ने ही बाते शुरू की।

उन्हों ने कहा “कुछ बात तक करो अभी तो बहुत लंबा सफर तय करना है “

क्या बात करू सर् आप ही बताओ कुछ।

कुछ देर तक उन्हों ने आफिस की ही बातें की फिर विकी ने बिनल से कहा कि “तुम लकी हो कि अपने हस्बैंड के साथ रह सकती हो मेने तो मेरी वाइफ को 2 महीने से नही देखा जब भी में घर जाता हु तभी मुलाकात होती है।”

बिनल ने कहा “ओह ऐसा है सर् आप तो बोर हो जाते होंगे अकेले अकेले”

कुछ नार्मल बातो के बाद विकी सर् ने कहा “एक बात पुछु अगर तुम बुरा न मानो तो?

पूछो

विकी ने कहा “तुम्हे पाता है आफिस में सब ऐसी बाते करते है कि हम दोनों के बीच अफेयर चल रहा हे?”

बिनल ने कहा “ हा मुझे पता तो है लेकिन में इन सब अफवाहों को इग्नोर कर देती हूं ऐसी बाते तो आफिस में होती रहती”

विकी सर् ने कहा “ये बात तो सच है लेकिन तुम्हे और क्या क्या पता है कैसी कैसी बाते करते है सब?”

बिनल ने कहा “ बस इतनाही की बिनल मेम का अफेयर विकी सर् के साथ हे” ऐसी बाते वो peon लोग कर रहे थे ऐसा मुझे कविता मेम ने बताया था। और ऐसा कुछ है नही इसलिए मैंने उनकी बात को सीरियसली नही लिया।

विकी सर् ने कहा “ मुझे तो ऐसी बात सुनने को मिली है कि हम दोनों के बीच फिसिकल रिलेशन भी है, ऐसी बाते भी सब कर रहे है।

बिनल ने कहा “ ओह्ह कितने झूठे लोग भरे है आफिस में ऐसा कैसे किसी के बारे में इतने हद तक झुठ बोल सकते है?

विकी ने कहा “ एक दिन जब तुम छुट्टी पे थी में भी आफिस नही गया था तब ऐसी बाते हो रहीं थी कि हम दोनों मेरे घर पे मिले थे उस दिन , वो असिस्टेन्ट मैनेजर तिवारी ऐसा सब को बोल रहा था कि इसीलिए दोनो आज आफिस नही आए”

बिनल ने कहा “अरे उस दिन तो हमारी अन्निवेर्सरी थी तो हम हसबंड के साथ बाहर गए थे” ये तिवारी का बच्चा कभी थप्पड़ खायेगा मेरे हाथों से” गुस्से में आकर बिनल ने कहा।
और विकी सर् से कहा “आप क्यों नही उनको कोई सबक सिखाते”

विकी ने कहा “देखो वो सब छोड़ो में तुम्हे कुछ पुछना चाहता हु अगर बुरा न मानो?”

बिनल ने कहा “ बताओ”

विकी सर् ने कहा “में सच में तुम्हे लाइक करता हु तुम मूझे बहुत ही अच्छी लगती हो”

बिनल की आंखे तो जैसे खुली की खुली रह गई वो कुछ बोल नही पाई बस आगे देखती रही।

और विकी सर् ने कहा “क्या तुम मुझे पसंद करती हो ?”

बिनल अब कसमकस में थी क्यों कि विकी एक तो बिनल बॉस थे और वो ऐसे रास्ते पे थी कि उनको avoid भी नही कर सकती थी ,और बिनल के कैरियर के बहुत से पहलू विकी सर् के साथ जुड़े थे।

बिनल ने कहा “ मेने आपके बारे में कभी ऐसा सोचा नही है अब में आपको क्या जवाब दु,?”

विकी सर् ऐसी लड़कियों को पटाने में शायद बहुत ही माहिर थे उन्हों ने कहा
“देखो में ऐसा नही कह रहा कि हम तुम मुझसे शादी कर लो या अपने हसबंड को छोड़ दो , ये सब हमारी सोशल लाइफ है वो तो हमे maintain रखनी ही है और ऊपर से हमारी जॉब भी, लेकिन सिर्फ इतना कहता हूं कि वैसे भी लोग ऐसी वैसी बाते किया करते है और करते रहेंगे इस से बेहतर ये है कि क्यों न हम एक दूसरे से एक रिश्ता बनाले जिसके बारे में हमदोनो को ही पता हो दूसरे लोग जो बात करे वो लेकिन हमारे बीच मे ऐसा रिश्ता होगा तो उनकी बातों का हम पे कोई असर नही होगा , और दूसरी बात की में तुम्हे जॉब में भी बहुत हेल्प कर सकता हु अब ये ट्रेनिंग के बाद तुम तो सिर्फ एक एम्प्लॉई ही रहोगी लेकिन में आफिस का चीफ मैनेजर बन जाऊंगा तो तुम आराम से जॉब कर सकती हो जब चाहो छुट्टी ले सकती हो ओर अपने हसबंड के साथ टाइम बिता सकती हो, मुझे सिर्फ तुम्हारी कंपनी चाहिए एक बेस्ट फ्रेंड की तरह रहना चाहता हु तुम्हारे साथ”

 

बिनल ने उनकी बात सुन के पता नही क्या सोच शायद वो भी उनकी बात से सहमत सी हो गई और उसने कहा “आप की बात में समझ सकती हूं लेकिन मेरी भी कुछ मजबूरी है ।

बिनल को भी शायद विकी सर् में इंटरेस्ट तो था फिर भी वो चुप रही।

विकी सर् ने एक हाथ बिनल की जांघो पे रखा और कहा “मुझे कोई जल्दी नही है डिअर तुम आराम से सोचो फिर अपना जवाब मुझे देना”

बिनल ने कहा “ok सर् में सोचूंगी” और मुझे ये जान कर खुशी हुई के आप मुझे लाइक करते है , हमारी शादी के बाद आप पहले शख्स है जिन्हों ने मुझे ऐसा खुल के कहा है। “

बिनल की बातों से शायद विकी सर् को जवाब भी मिल गया था अब वो दोनों एक दूसरे से ऐसी बाते करते हुए आगे बढ़ रहे थे।

कभी कभी विकी सर् बिनल की जांघो पे हाथ रख देते थे कभी कभी हाथ फिरते थे बिनल को उनका स्पर्श जैसे अच्छा लगने लगा था लेकिन अभी भी थोड़ी दूरी उन्हों ने बनाई रखी थी।

Updated: July 4, 2018 — 12:20 am
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: