मुंबई में मिली अमीर घर की औरत

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अंकित पटेल है और में मुंबई का रहने वाला हूँ. दोस्तों यह मेरी दूसरी कहानी है और में उम्मीद करता हूँ कि यह मेरी आज की कहानी भी आप सभी को बहुत पसंद आएगी और अब में आप सभी का ज्यादा समय खराब ना करते हुए सीधे अपनी आज की कहानी पर आता हूँ.

दोस्तों मेरी लम्बाई 6.3 इंच है और में दिखने में बहुत अच्छा हूँ. दोस्तों यह दो महीने पहले की है, में मॉडलिंग करता हूँ एक दिन मेरा एक इवेंट था. वहां पर बहुत सारे लोग आए हुए थे वो सभी बड़े बड़े घर के लोग थे. उनमे से बहुत सारी लड़कियाँ और भाभियाँ भी थी और जब में रेम्प पर चल रहा था तब एक भाभी ने मुझे देखा और रेम्प पर चलने के बाद वो मुझे स्टेज के पीछे मिलने आई. मैंने देखा कि उसने नीले कलर की टी-शर्ट और काली कलर की जींस पहनी हुई थी. वो दिखने में बहुत अच्छी और हॉट सेक्सी थी. वो मेरे पास आई और फिर उसने मुझसे बोला कि तुम जब रेम्प पर चल रहे थे तो बहुत अच्छे लग रहे थे, मुझे तुम्हारा इस तरह से चलाना बहुत अच्छा लगा, तुमने तो वो सब बहुत कमाल का किया. मैंने उससे मुस्कुराते हुए धन्यवाद कहा और उसके बाद में हमारी इधर उधर की बातें शुरू हो गई और हमने करीब आधे एक घंटे तक वहीं पर बातें की.

दोस्तों तभी मैंने उससे बातों ही बातों में जाना कि वो एक हॉउसवाईफ है और अभी इस समय बांद्रा में रहती है. उसकी एक बेटी है जिसकी उम्र अभी पांच साल है और उसके पति एक बहुत बड़े बिजनसमैन है और वो अपने बिजनस की वजह से ज़्यादातर आउट ऑफ सिटी रहते है. दोस्तों उनका नाम प्रिया था और जैसा उनका नाम वैसी ही वो खुद थी. बिल्कुल एक गुड़िया की तरह एकदम सुंदर, पतली कमर बड़े बड़े बूब्स, उभरी हुई गांड दिखने में एकदम सेक्सी जिसको देखने के बाद हर कोई उसे चोदने के सपने देखने लगे क्योंकि वो दिखने में थी ही ऐसी.

फिर हमने अब आधे एक घंटे में अपना अपना मोबाईल नम्बर एक दूसरे को दे दिया. फिर दो दिनों के बाद प्रिया का मेरे मोबाईल नंबर पर एक मैसेज आया और फिर हमारी बातें भी शुरू हो गई और वैसे ही हर रोज हमारी बातें होने लगी. तब मैंने उसकी बातों से जाना कि वो बहुत उदास रहती थी. फिर प्रिया ने एक दिन मुझसे मिलने का प्लान बनाया और हम दोनों पास ही के एक गार्डन में मिले. मैंने देखा कि वो उस समय भी थोड़ी सी मायूस थी. तो हमने इधर उधर की बातें शुरू की तो मेरे पूछने पर उसने मुझे बताया कि मेरे पति बहुत दिनों से बाहर है और में उनको हर रात में बड़ा याद करती हूँ.

अब में सब कुछ समझ गया और बस में उस वक्त का इंतजार कर रहा था कि मुझे कब वो मौका मिले जिसका में बहुत बेसब्री से इंतजार कर रहा था. फिर हमने उस दिन इधर उधर की बातों के साथ अपनी सेक्स लाईफ की सभी बातें एक दूसरे से की और फिर उसने मुझे अपनी सभी समस्या बताते हुए मुझे अपने साथ सेक्स करने का आग्रह किया. मैंने तुरंत ही उसको हाँ बोल दिया और फिर हम अपने अपने घर पर चले गये. फिर उसके बाद उसने मुझे दो दिन के बाद कॉल किया और मुझसे कहा कि तुम जल्दी से मेरे घर पर आ जाओ और फिर में भी तुरंत ही उसके दिए हुए पते पर चला गया, तब मैंने देखा कि वो बहुत ही बड़ा अपार्टमेंट था, जिसमे वो रहती थी और वो मुझे लेने नीचे आई हुई थी और फिर हम दोनों एक दूसरे से बातें करते हुए ऊपर चले गये.

मैंने देखा कि वो एक बहुत बड़िया हाउस था जिसमे कोई भी चीज़ की कमी नहीं थी. वो एक बहुत बड़ा आलीशान घर था. तो मेरे पूछने पर उसने मुझे मुस्कुराते हुए बताया कि इस समय घर पर कोई भी नहीं है. मैंने टीवी को चालू किया और अब वो हमारे लिए कॉफ़ी बनाने के लिए किचन में चली गई. जाते समय मैंने उसको पीछे से बहुत ध्यान से देखा था, वो क्या कयामत ढा रही थी? हॉट बहुत हॉट और बहुत सेक्सी जिसे देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया था.

फिर कुछ देर बाद वो कॉफ़ी लेकर आई और मेरे पास में आकर बैठ गई और मुझे देखने लगी, लेकिन तभी उसने अचानक से मेरे हाथ में से टीवी का रिमोट ले लिया और फिर मैंने देखा कि वो कुछ पेनड्राइव जैसा कुछ टीवी में लगाने लगी और टीवी चालू होने के बाद मुझे पता चला कि वो पॉर्न फिल्म से भरी हुई थी और उसने मुझसे बोल दिया कि अब जो करूँगी में खुद ही करूँगी तुम्हे कुछ नहीं करना है और तुम मुझे रोकना भी नहीं. तो मैंने बोला कि ठीक है और अब उसने वो पॉर्न फिल्म शुरू कि जिसे देखते देखते मेरा लंड पूरी तरह से तनकर खड़ा हो गया था. फिर उसने अचानक से मेरी और देखा और अब धीरे धीरे मेरी और बढ़ने लगी और अब वो मुझे लिप किस करने लगी, वो बहुत हॉट हो चुकी थी और में भी करीब 15 मिनट किस करने के बाद वो अपने दोनों हाथों से मेरे लंड को मसलने लगी.

फिर उसने मेरी पेंट को भी खोल दिया और फिर जैसे ही उसने मेरी उंडरवियर को उतारा तो मेरा लंड एकदम तनकर खड़ा हुआ था और उसकी चूत को सलामी दे रहा था. मेरे लंड को देखकर उसका मुहं खुला का खुला ही रह गया. वो एक ही जगह पर अटक सी गई. मैंने उससे पूछा कि क्या हुआ? वो बोली कि इतना बड़ा? मैंने तो आज तक सुना ही था कि किसी का लंड इतना बड़ा भी हो सकता है, लेकिन आज देख भी लिया. ऐसा लंड अब तक मेरी कल्पनाओ में ही था या फिर में उन्हे सिर्फ पॉर्न फिल्म में ही देखा करती थी, लेकिन आज में पहली बार इतने बड़े लंड को छू भी सकती हूँ और इससे अपनी बहुत दिनों की प्यास को बुझा भी सकती हूँ.

वो बोली कि वाह आज तो मुझे बहुत मज़ा आने वाला है. दोस्तों मेरा लंड 8.5 इंच का और इतना तगड़ा लंड देखकर वो एकदम से झूम उठी और अब वो उससे खेलने लगी और मेरे लंड को सहलाने लगी और अब उसने मेरा लंड चूसना भी शुरू कर दिया. वो ऐसे कर रही थी कि जैसे उसने आज तक ऐसा कुछ भी किया ही नहीं. वो बिल्कुल पागल हो गई थी और फिर करीब बीस मिनट तक मेरा लंड चूसने के बाद वो बोल उठी कि अब मुझसे और रहा नहीं जाता. प्लीज आज तुम मेरी प्यास को बुझा दो.

फिर मैंने तुरंत उसको एक लिप किस कर दिया और एक हाथ से उसके कपड़े उतारने लगा. माँ कसम उसका क्या मस्त फिगर था? में अब उसके दोनों बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबा रहा था और बारी बारी से चूस भी रहा था वो सिसक रही थी और धीरे धीरे मोन भी कर रही थी. वो बिल्कुल गोरी चिट्टी और उसकी चूत भी एकदम साफ और उस पर एक भी बाल नहीं था. मुझे तो मज़ा ही आ गया और करीब 15 मिनट तक मैंने उसके बूब्स को दबाया किस किया और फिर उसने मुझसे कहा कि चलो अब हम बेडरूम में चलते है. तो वहां पर जाकर वो मुझसे बोली कि अब जैसा में तुमसे कहूँ तुम वैसा ही करो.

फिर मैंने बोला कि ठीक है और फिर उसने मुझे बेड पर लेटा दिया मेरा लंबा मोटा लंड एकदम तनकर खड़ा था. वो मेरे ऊपर आ गई और लंड को एक हाथ से पकड़कर उसने उस पर कंडोम लगा दिया और अब मेरे ऊपर आकर लंड को सीधा करके उसे धीरे धीरे अपनी चूत में डालने लगी. वो बहुत धीरे धीरे लंड पर बैठती चली गई और लंड घुसता चला गया, लेकिन दोस्तों जैसे ही पहली बार उसने लंड को चूत में डालने की कोशिश की तो वो बहुत ज़ोर से चिल्ला उठी उईईईईई माँ फट गई अह्ह्ह्ह्ह्ह् मेरी और फिर दो तीन बार छेद ऊपर नीचे होने से मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुस गया, लेकिन अब उसकी आखों में से आँसू निकल गये थे और वो बहुत उत्तेजित हो उठी और अब वो बहुत ज़ोर ज़ोर से ऊपर नीचे हो रही थी.

दोस्तों में आप सभी को क्या बताऊँ मुझे कितना मज़ा आ रहा था क्योंकि में नीचे लेटा हुआ था और वो मेरे लंड पर उछल रही थी. उसके झूलते हुए बड़े बड़े बूब्स मुझमें और भी जोश भर रहे थे और करीब 15 मिनट तक चुदाई करने के बाद हम दोनों एक साथ में झड़ गए, लेकिन उसके बाद उसने मेरे साथ हर एक पोजीशन में सेक्स किया और कुछ देर बाद उसने मेरे लंड को चूस चूसकर फिर से चोदने के लिए तैयार कर दिया और इस बार वो मेरे सामने कुतिया बन गई और मुझसे कहने लगी कि चोदो मुझे.

मैंने भी ज्यादा देर ना करते हुये उसकी चूत में लंड डाल दिया और ज़ोर ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा और वो बहुत ज़ोर से चीखने चिल्लाने लगी और मोन करने लगी. उसकी चीखने की आवाज मुझमें और भी जोश भर रही थी और करीब बीस मिनट की चुदाई के बाद में एक बार फिर से उसकी चूत में झड़ गया, लेकिन इस बार लंड पर कंडोम नहीं लगा हुआ था जिसकी वजह से मैंने अपना गरम गरम वीर्य भर दिया जो कुछ देर बाद उसकी चूत से बहकर बाहर आने लगा था. उसकी जांघो से बहकर नीचे बेड शीट पर गिरने लगा और उसे भिगोने लगा था और फिर में उस पूरी रात उसके घर पर साथ था.

फिर उसने मुझसे पूरी रात में चार बार सेक्स करवाया और हर बार वो मेरे लंड को मुहं में लेकर चूसती और बोल उठती कि धन्यवाद तुमने आज मेरी प्यासी चूत को अपने लंड से बुझा दिया. में आज तुम्हारा लंड लेकर पूरी तरह संतुष्ट हो गई हूँ. दोस्त में सच बताऊँ तो उस दिन मैंने तो कुछ भी नहीं किया बल्कि उसने ही पूरा मज़ा लिया और मैंने दिया. फिर हम ऐसे ही एक दूसरे की बाहों में सो गए, लेकिन वो आज भी उस रात का ज़िक्र करके उस रात को बहुत याद करती है और में भी. फिर हम सुबह उठे और में अपने कपड़े पहनकर अपने घर के लिए निकल गया, जाते समय उसने मुझे लिप किस किया और अपनी रात भर चुदाई करने के लिए मुझसे धन्यवाद बोला और मुझे एक गिफ्ट दिया. फिर मैंने अपने घर पर जाकर देखा तो उस डब्बे में एक महंगा वाला मोबाईल फोन था. मैंने तुरंत उसको एक मैसेज करके धन्यवाद बोल दिया और उसने उस एक रात में आज तक की अपनी पूरी सेक्स लाईफ जी ली थी और अब में उसके बाद भी प्रिया के साथ एक सप्ताह में दो बार ऐसे ही कई बार सेक्स कर चुका हूँ.

admin