उसकी स्कर्ट के अंदर हाथ-1

desi kahani में नये रीडर्स को बता दूँ की मेरा नाम अमित है और मेरी उम्र 19 साल है अब में आपको वो बात बताता हूँ जो की मेरे साथ तब हुई थी जब में 8 वी क्लास मे पढ़ता था मे बचपन से ही सेक्सी लड़का हूँ और लड़की

चोदने का कोई भी मौका नही छोड़ता मेने पहली बार ब्लू फील्म 6 वी क्लास मे देखी थी तब मेरे वीर्य नही निकलता था पर फिर भी में लंड को हिलाया करता था आपको मे बता दूँ की मे एक बहुत ही अच्छे पब्लिक स्कूल मे पढ़ता था मे अपनी कामवाली बाई की चुचियाँ मज़ाक मज़ाक मे दबाया करता था वो मुझे कुछ नही कहती थी क्योकि मे अभी बच्चा था.

मेरी क्लास मे एक लड़की थी उसका नाम था सृष्टि . क्या मस्त फिगर था उसका देखते ही लंड तन जाता था और उसके बूब्स 8 वी क्लास में किसी पढ़ने वाली लड़की की तरह तो बिल्कुल नही थे इतने मोटे बूब्स थे उसके की मन करता था अपना मुँह उनके बीच में डालकर दबाऊँ में उसकी गांड का दीवाना था आपको एक राज़ की बात बताऊँ मेने पहला मूठ भी सृष्टि के नाम का ही मारा था पहली बार मे ही बहुत सारा वीर्य निकला था मे उसके साथ बाते करता था और जब कोई नही होता था तो क्लास मे तो मजाक मजाक मे उसकी जांघो पर हाथ भी फेरता था वो कुछ नही कहती थी मेरी हिम्मत बडती ही जा रही थी फिर मे जब भी उसके साथ खड़ा होता था तो उसकी गांड दबाया करता था और उस पर हाथ भी मारा करता था मज़ा आता था बहुत हमारे स्कूल में योगा का जब पीरियड होता था तो हम सब ट्रैक सूट पहना करते थे उसमें सृष्टि की क्या मस्त गांड दिखती थी में आपको बता भी नही सकता में तभी ही उसकी गांड पर धीरे धीरे हाथ लगाता था.

 

एक दिन हमारा पीरियड था और उसके सर में थोड़ा सा दर्द हो रहा था तो वो क्लास मे ही बैठ गयी मे भी क्लास से यह कह कर भाग आया की मेरी तबीयत खराब हो गयी है मे क्लास मे आकर उसके साथ बैठ गया और उससे बाते करने लगा वो उठ कर खड़ी हो गयी और बोर्ड पर लिखे नोट पढ़ने लगी मे उसकी गांड देख रहा था तो मे उठकर उसके पास गया और उसकी गांड दबाने लगा उसकी पेंटी में फील कर सकता था गांड पर फिर मेने एक चाटा मारा वो मुझे गुस्से से घूरने लगी मेने उसे सॉरी कहा और उसे अपनी बाहो मे भर लिया वो कहने लगी की यह क्या कर रहा है तू मेने कहा कुछ नही प्यार कर रहा हूँ उसने कहा ऐसे प्यार करते है क्या मेने कहा हाँ जानम ऐसे ही करते और यह कह कर उसके होठों को चूमना शुरू कर दिया पहले तो वो मेरा साथ नही दे रही थी मे ही उसके होंठ गीले करके चाट रहा था. 

फिर थोड़ी देर बाद वो भी मेरा साथ देने लगी मेने धीरे धीरे उसके बालो मे हाथ डालकर उन्हे धीरे धीरे खींचने लगा वो मस्त हो रही थी और उसकी साँसे तेज़ हो रही थी फिर मेने उसकी गर्दन पर चाटना शुरू किया और उसकी शर्ट के बटन खोलने लगा उसने मेरा हाथ पकड़ लिया और मना करने लगी मेने कहा की चल पहले मे तुझे अपना लंड दिखाता हूँ फिर तेरी बारी आयेगी वो मान गयी मेने अपनी चेन खोली और अपना लंड पेन्ट से बाहर निकाला 7 इंच का लम्बा और 3 इंच मोटा लंड पूरा तना हुआ था मेने उससे कहा की वो इसे हाथ मे लेकर हिलाये और चाटे उसने हाथ में लिया और उसे देखते हुये दबाने लगी जैसे ही वो लंड दबा रही थी लंड का सूपड़ा मोटा हो जाता था और उसका हाथ जैसे ही ढीला होता था तो लंड सिकुड जाता था उसे ऐसा करने मे मज़ा आ रहा था.  

मेने उसे लंड मुँह मे लेने को कहा उसने बस टोपा ही मुँह मे लिया और अपनी जीभ उस पर फेरने लगी मेने उससे कहा की पूरा लंड अपने मुँह मे ले तो उसने कहा की उसे लंड चूसना नही आता मेने उससे पूछा सीखना चाहती है उसने कहा हाँ बिल्कुल क्यों नही मेने उसे अपने फोन मे पड़े सेक्सी कांड दिखाया और कहा की इसको देखते देखते मेरा चूसो उसने लंड चूसना शुरू किया और जैसे ही क्लिप ख़त्म हुआ वो मेरा लंड ऐसे चूस रही थी की मानो एक पक्की रंडी हो एक बार मे पूरा लंड मुँह मे लेकर बाहर निकाल रही थी थूक से सना हुआ था पूरा लंड अब मेने उसे खड़ा होने को कहा और उसके गीले थूक से सने हुये होठों को चूसने लगा वो मेरा लंड सहला रही थी मेने अब उसे अपनी शर्ट के बटन खोलने को कहा उसके बूब्स ब्रा मे से बाहर आने को तरस रहे थे.  

Updated: September 4, 2019 — 8:20 pm
Meri Gandi Kahani - Desi Hindi sex stories © 2017 Frontier Theme
error: